सरकार ने शुरू की वेब पोर्टल सर्विस, फोन चोरी या खोने पर उसे ढूंढने में करेगी मदद

दूरसंचार विभाग (DoT) ने खोए या चोरी हुए फोन ढूंढने के लिए नई पोर्टल सर्विस शुरू की है। केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मुंबई में इसे शुरू किया। इस प्रोजेक्ट को सेंट्रल इक्युपमेंट आईडेंटिटी रजिस्टर (CEIR) नाम दिया गया है। यहां से चोरी हुए या खो गए फोन को हर नेटवर्क पर ब्लॉक किया जा सकता है। वहीं, ये फोन ट्रेस करने में भी मदद करेगा।

फोन को नकली IMEI से बचाना

दूरसंचार विभाग द्वारा CEIR (वेबसाइट) प्रोजेक्ट को शुरू किया गया है। इसका प्राथमिक उद्देश्य हर मोबाइल नेटवर्क पर खोए या चोरी हुए मोबाइल फोन को ब्लॉक करना, खोए या चोरी हुए मोबाइल फोन को ट्रेस करना, नेटवर्क में मोबाइल डिवाइस को नकली IMEI से बचाना है। दरअसल, सभी फोन में पहचान के लिए IMEI नंबर होता है। IMEI नंबर रिप्रोग्रामेबल है, इस वजह से मोबाइल चोरी होने के बाद IMEI नंबर को रिप्रोग्राम कर दिया जाता है, जिस कारण IMEI की क्लोनिंग होती है।

लोग ऐसे कर पाएंगे शिकायत

IMEI

मोबाइल फोन चोरी या खो जाने पर सबसे पहले एफआईआर दर्ज करनी होगी। इसके बाद हेल्पलाइन नंबर 14422 पर कॉल कर दूरसंचार विभाग (DoT) को सूचित करना होगा। वेरिफिकेशन के बाद आपका फोन ब्लैकलिस्ट कर दिया जाएगा। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसान ब्लैकलिस्ट फोन में जब कोई दूसरी सिम यूज की जाएगी तब सर्विस प्रोवाइजर नए यूजर की पहचान कर पुलिस को सूचित करेगा। इस सर्विस को अभी महाराष्ट्र में शुरू किया गया है।

Leave comment