Editorial :- पाक ने की फिर परमाणु चोरी, अमेरिका ने पकड़ा

18 January 2020 

जिया उल हक – गैंड फादर ऑफ ग्लोबल जिहाद

नार्थ कोरिया ने न्यूक सिक्रेट प्राप्त किया पाक से वाया यूएस विश्व को पाकिस्तान के  आतंकवाद से ही खतरा नहीं है बल्कि उसके द्वारा चोरी छिपे न्यूक सेके्रट और तकनीक प्राप्त करने और उसे नार्थ कोरिया तथा कट्टरपंथी इस्लामिक देशों को सप्लाई करने से भी है।

>>आज का समाचार है : पाकिस्तान के रावलपिंडी स्थित फ्रंट कंपनी ‘बिजनस वल्र्डÓ से जुड़े पांच पाकिस्तानियों पर अमेरिका में आरोप लगा है कि उन्होंने पाकिस्तान के न्यूक्लियर और मिसाइल प्रोग्राम के लिए अमेरिकी तकनीक की स्मगलिंग की है। 

>> यहॉ यह स्मरण दिलाना आवश्यक है कि  पाकिस्तान के परमाणु कार्यक्रम के जनक अब्दुल कादिर खान ने उत्तर कोरिया को उसी समय यूरेनियम संवर्धन अपकेंद्रण यंत्रों की डिजाइन भी बेचे। बदले में उत्तर कोरिया से मिली लंबी दूरी की मिसाइल की तकनीकी के जरिए पाकिस्तान ने मध्यम दूरी की सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइल गौरी विकसित किया।

उत्तर कोरिया के अलावा अन्य देशों केा भी न्यूक सेके्रट पाकिस्तान उपलब्ध करा चुका है।

पाकिस्तान में छिपे बैठे ग्लोबल जिहादी भी देर सबेर पाकिस्तान के न्यूक्लियर प्लांट पर कब्जा करेंगे।

पाक की न्यूक सेके्रट परमाणु तकनीक से ही विश्व को खतरा नहीं है बल्कि उसके द्वारा विश्व में फैलाये जा रहे आतंकवाद से भी है।

>> प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कह चुके हैं   ‘क्षेत्र के सभी देशों को आतंकवाद की बुराई और उसका समर्थन करने वाली ताकतों को हराने के लिए प्रभावी कदम उठाने चाहिए.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पाकिस्तान को दुनिया भर में अलग-थलग करने की कूटनीति अब पूरी तरह सफल साबित हो रही है। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने और पुनर्गठन से बौखलाए पाकिस्तान को कहीं से कोई आश्वासन नहीं मिल रहा है।

कोई भी देश पाकिस्तान की किसी बात पर भरोसा करने के लिए तैयार नहीं हैं। हालात ऐसे है कि पाकिस्तान का ऑल वेदर फ्रेंड चीन भी मदद के लिए आगे नहीं आ रहा है।

पाक पीएम ने माना कश्मीर पर नहीं मिल रहा वैश्विक समुदाय का साथ। यदि किसी का साथ मिल रहा है तो उसे कांगे्रस और उसके नेता राहुल गांधी से मिल रहा है।

राहुल गांधी बीते दो दिनों से देवेंद्र सिंह के मामले पर पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं।

पाक प्रायोजित आतंकवाद को खत्म करने में आतंकवादियों का खात्मा करने में भारत की सेना और सुरक्षाबल तथा खुफिया एजेंसिया,जांच एजेंसिया एनआईए, सीबीआई आदि सफलता पूर्वक कर रही हैं।

कांग्रेस और अन्य परिवारवादी पार्टियां सत्ता के लालच में मोदी विरोध की आढ़ में देश मेें गृहयुद्ध की स्थिति उत्पन्न कर सत्ता हथियाना चाहते हैं।

इसीलिये सीडीआर को सड़क का गुंडा कहा गया और वर्तमान आर्मी चीफ पर भी अपमान जनक टिप्पणियां की जा रही हैें।

भारत के सुरक्षाबल विशेषकर पुलिस के विरूद्ध ये पार्टियां जिहाद छेड़ी हुई हैं।

सुरक्षा एजेंसिया, सीबीआई पर भी प्रहार किया जाता रहा है। प.बंगाल तथा अन्य प्रांतों में जहॉ कांगे्रस का शासन है वहॉ सीबीआई के कार्य में बाधा उत्पन्न की गई है।

अभी एनआईए को लेकर भी राहुल गांधी जिहाद छेड़े हुए हैँं। वे सोचते हैं कि पीएम मोदी की जो नीति सबका साथ सबका विकास सब पर विश्वास है उसके विरूद्ध मुस्लिम समुदाय को भड़काया जाये तो सत्ता हथियाना उसी प्रकार से आसान है जिस प्रकार से जिन्ना के माध्यम से मुस्लिम समुदाय को उक्साकर पं.नेहरू ने भारत का धार्मिक आधार पर विभाजन कर सत्ता हथियाई थी।

यह निश्चित है कि उक्त हरकतें कांग्रेस के गले की फांस बनेगी। ।

Leave comment