2022 तक भारत में दोगुनी होगी बाघों की संख्या- PM मोदी

गुजरात (Gujrat) के गांधीनगर में आयोजित राष्ट्रीय प्रवासी प्रजाति संरक्षण के 13 वें सम्मेलन में हिस्सा लेते हुए पीएम मोदी ने कहा, भारत दुनिया का सबसे अधिक विविधता वाला देश है। जहां विश्व के भू क्षेत्रफल का 2.4% जमीन और 8% जैव विविधता में अपनी भूमिका निभाता है। साथ ही उन्होंने 2022 तक बाघ के संख्या में दोगुने इजाफे का दावा भी किया।

‘पर्यावरण को नुकसान पहुंचाए बगैर विकास हो’
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने सोमवार को कहा कि भारत उन चुनिंदा देशों में से एक है जो तापमान में वृद्धि को दो डिग्री सेल्सियस से नीचे रखने के पेरिस समझौते के लक्ष्य को पाने की दिशा में कदम उठा रहे हैं। दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गांधीनगर में सीओपी13 के प्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे प्रधानमंत्री (Prime Minister) ने कहा कि भारत जलवायु संबंधी ऐसे कदमों का समर्थन करता है जो संरक्षण के मूल्यों, टिकाऊ जीवनशैली तथा हरित विकास मॉडल पर आधारित हों।

उन्होंने यह भी कहा कि भारत ने मध्य एशिया हवाई मार्ग में प्रवासी पक्षियों को सुरक्षित रखने संबंधी राष्ट्रीय कार्ययोजना तैयार की है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि पर्यावरण को नुकसान पहुंचाए बगैर विकास हो।’’

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.