कोहली ने हर साल औसतन 36 मैच खेले, सफर और प्रैक्टिस सेशन मिलाकर तकरीबन 300 दिन व्यस्त रहे

 भारतीय कप्तान विराट कोहली कई मौकों पर क्रिकेट वर्कलोड को लेकर चिंता जाहिर कर चुके हैं। यह कितनी सही है, आप इस बात का अंदाजा इससे लगा सकते हैं कि वे हर साल टेस्ट, वनडे और टी-20 मिलाकर औसतन 36 मैच खेलते हैं। कोहली हर सीरीज के दौरान सफर और प्रैक्टिस सेशन को मिलाकर तकरीबन 300 दिन व्यस्त रहते हैं। कोहली खुद इस बात का खुलासा न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 टेस्ट की सीरीज से पहले बुधवार को एक प्रैस कॉन्फ्रेंस में कर चुके हैं।

कोहली ने 18 अगस्त 2008 को श्रीलंका के खिलाफ किंग्सटन वनडे से डेब्यू किया था। तब से अब तक उन्होंने 139 महीने में 84 टेस्ट, 248 वनडे और 82 टी-20 खेले हैं। इस लिहाज से सिर्फ मैच के लिए कोहली अब तक 750 दिन मैदान पर बिताए हैं। सफर, प्रैक्टिस सेशन और प्रैक्टिस मैच को जोड़ते हैं, तो कोहली अब तक तकरीबन 4 हजार दिन क्रिकेट में व्यस्त रहे हैं।

कोहली ने कहा था- खिलाड़ी सीधे स्टेडियम में लैंड करेंगे और मैच खेलेंगे

भारतीय कप्तान ने न्यूजीलैंड दौरे से पहले 23 जनवरी को टाइट शेड्यूल को लेकर बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि वह दिन ज्यादा दूर नहीं है, जब खिलाड़ी सीधे स्टेडियम में लैंड करेंगे और मैच खेलेंगे। अब उन्होंने वेलिंगटन में वर्कलोड को लेकर कहा, ‘‘यह कोई ऐसी चीज नहीं है, जिसे आप किसी भी तरीके से छिपा सकें। मैं साल में 300 दिन खेल रहा हूं। इसमें यात्रा और अभ्यास सत्र भी शामिल है। वर्कलोड हर समय वही है।’’

भारतीय टीम 9 महीने में हर दूसरे दिन मैदान पर रही
टीम इंडिया पिछले साल जून से अब तक न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, अमेरिका और भारत में 22 वनडे, 20 टी-20 और 7 टेस्ट खेल चुकी है। इन सभी मैचों में एक-एक दिन प्रैक्टिस का जोड़ लें तो 9 महीने में इंडिया 132 दिन मैदान पर रही यानी करीब-करीब हर दूसरे दिन।
 

कोहली ने अब तक तीनों फॉर्मेट में मिलाकर 414 मैच खेले

सालमैच
20085
200910
201027
201143
201240
201343
201438
201531
201637
201746
201837
201944
202013

भारत ने 2017 और 2018 में तीनों फॉर्मेट मिलाकर 53 मैच खेले
पिछले 4 साल के आंकड़े भी भारतीय कप्तान के ज्यादा क्रिकेट वाले बयान को सही ठहराते दिख रहे हैं। टीम इंडिया ने 2016 से 2019 के बीच 12 देशों की यात्रा की और तीनों फॉर्मेट में 204 मैच खेले। इस दौरान दो साल ऐसे रहे, जब भारतीय टीम ने 53 मैच खेले। भारत ने 2018 में सबसे ज्यादा टेस्ट 14 टेस्ट खेले। इसी साल उसने मैदान पर सबसे ज्यादा 97 दिन बिताए यानी औसतन हर चौथे दिन भारतीय टीम मैदान पर नजर आई।

2019 में भारतीय टीम ने 79 दिन मैदान पर बिताए
बाकी सालों की बात करें तो भारत ने 2016 में तीनों फॉर्मेट मिलाकर 46 मैच खेले। इस दौरान टीम 90 दिन मैदान पर रही यानी औसतन हर चौथे दिन भारत ने मैच खेला। टीम इंडिया ने 2017 में 53 मैच खेले और मैदान पर 75 दिन गुजारे। इस लिहाज से उसने हर पांचवें दिन मैच खेला। 2019 में भारत ने 52 मैच खेले और मैदान पर 79 दिन रहे यानी हर पांचवें दिन भारत मैच खेल रहा था।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.