कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने विद्यार्थियों को पढ़ाई कर सुनहरा भविष्य बनाने की दी समझाईश - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने विद्यार्थियों को पढ़ाई कर सुनहरा भविष्य बनाने की दी समझाईश

48 2

जिला प्रशासन द्वारा कक्षा 10वीं एवं 12वीं की बोर्ड परीक्षा में बेहतर परीक्षा परिणाम सुनिश्चित करने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं, इसके लिए ’’हमर लक्ष्य अभियान’’ प्रांरभ किया गया है। मेरिट में आने योग्य छात्र-छात्राओं के लिए मोटिवेशनल क्लास तथा कम अच्छे विद्यार्थियों के लिए अतिरिक्त क्लास लगाये जा रहे हैं। मेधावी छात्र-छात्राओं के लिए नरहरदेव उत्कृष्ट अंग्रेजी विद्यालय कांकेर में मंगलवार को अभिप्रेरणा कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें कक्षा 10वीं एवं 12वीं के विद्यार्थी शामिल हुए, इस कार्यशाला को कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने संबोधित करते हुए कहा कि सफलता के लिए लक्ष्य निर्धारित कर कड़ी मेहनत करें तथा हमेशा खुश रह कर पढ़ाई करें। यह ध्यान रखें कि पढ़ाई आप स्वयं के बेहतर भविष्य के लिए कर रहे हैं, इसलिए अपना सर्वोत्तम मेहनत पढ़ाई में करें, पढ़ाये गये विषय का बार-बार अध्ययन करें। कलेक्टर ने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि कोई भी विषय खराब नहीं होती, अपने रूचिकर विषय में अच्छी पढ़ाई करते हुए अपने लक्ष्य को हासिल करने में कामयाब हो सकते हैं। गणित विषय में 12वीं की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों को जेईई की परीक्षा में शामिल होने का सुझाव भी दिया गया। पढ़ाई के लिए समय निर्धारित करने के संबंध में अपने अनुभव को भी विद्यार्थियों से साझा किये। विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने कहा कि ’’लहरो से डर कर नौका पार नही होती, प्रयाश करने वाले की कभी हार नही होती’’ सभी विद्यार्थियों को कलेक्टर ने समझाईश देते हुए कहा कि स्कूल में शिक्षकों के द्वारा जो विषय पढ़ाया जाता है, उसे घर में आकर जरूर अध्ययन करें। उन्होंने देश के प्रथम महिला आईपीएस किरण बेदी की कहानी को बतातें हुए विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि आप लोग भी इस तरत अपने माता-पिता का नाम रोशन करें। कार्यशाला में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुमीत अग्रवाल ने भी विद्यार्थियों के प्रश्नों का जवाब देते हुए कहा कि समय बहुमूल्य है, समय निर्धारित कर कड़ी मेहनत करें। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी भुवन जैन, सहायक संचालक नवीन सिन्हा, प्राचार्य श्रीमती रचना श्रीवास्तव सहित शिक्षक शिक्षिकाएं और छात्र-छात्राएं मौजूद थे।