AC, सोफा, झूमर सब कुछ कुर्क... खनन माफिया हाजी इकबाल की कोठी पर मुनादी के साथ हुआ ऐक्शन, जानिए मामला - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

AC, सोफा, झूमर सब कुछ कुर्क… खनन माफिया हाजी इकबाल की कोठी पर मुनादी के साथ हुआ ऐक्शन, जानिए मामला

AC, सोफा, झूमर सब कुछ कुर्क... खनन माफिया हाजी इकबाल की कोठी पर मुनादी के साथ हुआ ऐक्शन, जानिए मामला

सहारनपुर: उत्तर प्रदेश के सहारनपुर पुलिस ने पूर्व एमएलसी, खनन कारोबारी और पचास हजार के इनामी हाजी इकबाल (Mining Mafia Haji Iqbal) की कोठी पर कुर्की की कार्रवाई की है।पूर्व एमएलसी पर गैंगरेप गबन सहित दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। हाजी इकबाल के बेटे और भाई पूर्व एमएलसी महमूद पहले ही जेल में बंद है। हाजी इकबाल की गिरफ्तारी पर सरकार ने पचास हजार का इनाम घोषित किया हुआ है।ढोल बजाकर कराई मुनादी, भारी फोर्स रहा तैनात
बुधवार की दोपहर गबन के मामले में पुलिस ने 50 हजार के इनामी आरोपी खनन कारोबारी व पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल की भगत सिंह कॉलोनी स्थित कोठी कुर्क की। सबसे पहले पुलिस ने हाजी इकबाल की कोठी के बाहर ढोल बजवा कर कर मुनादी कराई। इसके बाद पुलिस ने कोठी से भारी मात्रा में घरेलू सामान कब्जे में लिया। पूरी कार्रवाई के दौरान भारी फोर्स मौके पर तैनात रहा।

3 घंटे तक चली कुर्की की कार्रवाई, ट्रक में भरा गया सामान
घटनाक्रम के तहत गबन के मामले में फरार पूर्व एमएलसी के भगत सिंह कॉलोनी स्थित कोठी पर सीओ बेहट मुनीश चंद के साथ थाना मिर्जापुर इंस्पेक्टर पीयूष गौतम, थाना जनकपुरी इंस्पेक्टर सनुज यादव पीएसी और भारी पुलिस फोर्स के साथ पहुचे। लगातार 3 घंटे तक कुर्की की कार्रवाई करते हुए पुलिस ने हाजी इकबाल की कोठी से तीन पंखे, दो सोफा सैट, तीन एसी, डायनिंग टेबल, चार झूमर, दो वाशिंग मशीन, एक जनरेटर, चार गीजर, डबल बेड सहित अन्य घरेलू सामान कुर्क किया है।

सीओ बेहट मुनीश चंद का कहना था कि पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के खिलाफ मिर्जापुर कोतवाली में गबन का मुकदमा दर्ज है। इसके अलावा भी उसके विरुद्ध कई मामले दर्ज हैं। हाजी इकबाल फरार है। लगातार गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में अदालत के आदेश पर इकबाल की कोठी की कुर्की की गई है।

ठेकेदार ने लगाया था काम करा कर पैसे ना देने का आरोप
पिछले वर्ष जून के महीने में क्षेत्र के गांव कुरड़ीखेड़ा निवासी ठेकेदार नूर हसन ने मिर्जापुर कोतवाली में हाजी इकबाल के खिलाफ गबन का मुकदमा दर्ज कराया था। नूर हसन का आरोप था कि हाजी इकबाल की ग्लोकल यूनिवर्सिटी में काम करने की एवज उसे 70 लाख रुपये लेने थे। हाजी इकबाल ने उसका आधा ही पैसा दिया और 32 लाख रुपये गबन कर लिए। बकाया रकम मांगने पर उसे धमकी दी गई थी। इसी मामले में पुलिस ने भगत सिंह कॉलोनी में इकबाल की कोठी से सामान कुर्क किया है।

पहले भी करोड़ों रुपए की संपत्ति हो चुकी है ज़ब्त
गौरतलब है कि हाजी इकबाल और उसके परिवार के कई लोगों के खिलाफ दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस हाजी इकबाल की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबाव बना रही है। सहारनपुर का पुलिस प्रशासन पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल की करोड़ों रुपए की संपत्ति को पहले ही ज़ब्त कर चुका है।पुलिस प्रशासन द्वारा पूर्व में भी भगत सिंह कॉलोनी स्थित इकबाल की तीन कोठियों को बुलडोजर चलवाकर जब्त किया गया था। इन्हीं से एक कोठी में रखे घरेलू सामान को जब्त किया गया है। पुलिस के मुताबिक, गैंगरेप के मामले में भी जल्द अन्य संपत्तियों की कुर्की होगी।

UP Bulldozer: नहीं सुनी भूमाफिया की कोई भी फरियाद, जेसीबी ने बेरहमी से गिरा दिया पूरा घर