Lok Shakti

Nationalism Always Empower People

इस सिंगर ने दोस्त में ही ढूंढा था दुल्हा, जानें क्यों पहनती हैं पगड़ी?

Default Featured Image

हर्षदीप कौर मैरिज एनिवर्सरी: ऊपर वाला इस धरती पर कभी-कभी ऐसे नगीने भेजती है, जो अपनी रूहानियत से पूरे जग में मधुरता और प्यार फैलाते हैं। कुछ ऐसी ही रूहानियत के लिए जन्मी मशहूर सिंगर हर्षदीप कौर इतनी मशहूर हैं कि देश के कोने-कोने में उनके फैंस मौजूद हैं। अपनी आवाज से लाखों समूहों को ‘गुड़ नाल मीठा मीठा’ मांग वाले हर्षदीप करोड़ों लोगों के जेहन में बसती हैं। लेकिन प्यारी सी आवाज की मालकिन इस शिंगर के दिल में बचपन से बस एक ही नाम बसता था और उसका नाम मनकीत सिंह का था। आज हर्षदीप और मनकीत अपनी शादी की आठवीं सालगिरह मना रहे हैं। आइए हम आपको दोनों की प्यारी सी लव स्टोरी से रूबरू दें।

बचपन की यारी सबसे प्यारी

वाहेगुरु की कृपा से महज छह साल की उम्र से ‘इक ओंकार’ गाने वाले हर्षदीप पढ़ाई करते-करते जब ‘कटिया स्वराज’ करने लगीं किसी को भी पता नहीं लगा। हालांकि, एक शख्स ऐसा था, जिसमें हर्षदीप की हर छोटी-छोटी बात का पता चलता था। वह और कोई नहीं, बल्कि उनके सबसे अच्छे दोस्त मनकीत सिंह थे। कहते हैं न इश्क में डूबे दो दोस्तों को नींद ही समझाता है कि उनके बीच दोस्ती से कुछ ज्यादा है। ऐसा ही कुछ हर्षदीप और मनकीत के साथ हुआ। कहने को तो बचपन से ही दोस्त थे। साथ पढ़ रहे थे, साथ निभा रहे थे, लेकिन दोनों की दोस्ती में इश्क की एंट्री तब हुई, जब हर्षदीप ने दिल्ली से मुंबई का रुख किया।

दोस्त में मिला हमसफ़र

अनन सिटी और अनन पीपल के बीच हर्षदीप के लिए मनकीत एक ऐसा साथी सामने आया, जिसने उन्हें मायानगरी की चाकाचौंध भरी दुनिया में कभी अकेला नहीं दिया। दिल्ली से मुंबई में पढ़ाई करने में हर्षदीप की मुलाकात अचानक एक दिन साल बाद मनकीत से हुई। बस फिर क्या था बचपन की ये दोस्ती धीरे-धीरे गहरी होती चली गई… और गहरी हो गई और समय के साथ इस दोस्ती का रंग इतना हो गया कि लड़के चले गए कि हर्षदीप और मनकीत को कभी किसी तीसरे की जरूरत महसूस नहीं हुई। दोनों को लगा एक-दूसरे के साथ अच्छा लगने और अक्सर साथ काम करने लगे। हर्षदीप और मनकीत कुछ इस तरह एक दूसरे के पीछे ‘झक मार के’ पड़ गए और दोस्ती बस कब प्यार में बदल गई पता ही नहीं लगा।

शादी कर दोस्ती को दिया प्यार का नाम

छह आकाशगंगा में गाकर लोगों को मंत्रमुग्ध करने की आवाज और चाहतों की गूंज मनकीत के घने-दिमाग में कुछ इस तरह गूंजती है कि वह ‘सूफी सुल्ताना’ को अपना दिल हार बैठे हैं। दोनों के बीच पहले प्यार हुआ…. फिर एकरार हुआ और फिर दोनों ने ‘ट्विस्ट कमरिया’ करते-करते शादी के बंधन में बंधने का फैसला लिया। हर्षदीप और मनकीत ने प्यारी सी लव स्टोरी को 20 मार्च, 2015 को शादी करके जन्मों-जन्मों के रिश्ते में साइन अप कर लिया। आज से आठ साल पहले हर्षदीप और मनकीत ने परिवार और दोस्तों के बीच शादी कर ली थी। दोनों का एक बेटा भी है, जिसका नाम हुनर ​​सिंह है।

हर्षदीप का पगड़ी कनेक्शन

हर्षदीप की जिंदगी में प्यार और उनके जुड़ाव के साथ-साथ कुछ दिलचस्प है तो वह उनके गाने गाते वक्त पगड़ी आंखें बजाते हैं। इस पगड़ी को देखकर लोगों के मन में कई बार सवाल भी उठते हैं। दरअसल, इसके पीछे एक खास वजह है और वह है कि ‘जुनून कुछ कर दिखाओ’ शो में हर्षदीप सिर कंपैटकर गाना चाहते थे। ऐसे में शिंगर ने अपने जीजा के कहने पर पगड़ी पहनकर गाना गाया और तब से शुरू हुआ यह सफर आज भी जारी है।

आखिरी बार ‘फर्जी’ में दिखे अभिनेता अमोल पालेकर की एक्टिंग है जबरदस्त, OTT पर मौजूद इन फिल्मों को जरूर देखें

You may have missed