नकली नोट छापने वाली गैंग के 4 बदमाश गिरफ्तार, 200-200 के 1.75 लाख रुपए के नकली नोट बरामद

महासमुंद पुलिस ने नकली नोट छापने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने गैंग के चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इसमें से दो ओडिशा से पकड़े गए हैं। आरोपियों से पुलिस ने दो बाइक, स्कूटी, प्रिंटर समेत 200-200 के 1.75 लाख रुपए के नकली नोट बरामद किए हैं। ये लोग छत्तीसगढ़ के साथ मध्य प्रदेश और ओडिशा में भी नकली नोट खपाते थे। 

आरोपियों के घर की तलाशी में 200-200 के 1.75 लाख रुपए के नकली नोट, मोबाइल, प्रिंटर, एयर पिस्टल, एक बंडल सफेद पेपर, 3 बाइक जब्त की गई है। 

महासमुंद के एसपी प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने बताया कि कई दिनों से बसना क्षेत्र में नकली नोट खपाने की सूचना मिल रही थी। इस पर बसना थाने की एक टीम गठित की गई थी। रविवार को टीम को सूचना मिली कि भंवरपुर गांव रोड पर कुछ संदिग्ध लोगों को देखा गया है, जो कि बड़े नोटों को छोटे नोटों से बदलने की कोशिश कर रहे थे। इस पर टीम पहुंची तो पता चला कि वो लोग अब धानापाली गांव के पास दिखाई दिए हैं। 

बिना नंबर वाली गाड़ियों से मिले 75 हजार के नकली नोट
पुलिस धानापाली पहुंची तो वहां बसना रोड पर बिना नंबर की बाइक और एक्टिवा पर दो लोग बैठे दिखाई दिए। इस पर पुलिस ने उन्हें घेराबंदी कर पकड़ लिया। पूछताछ में पता चला कि सांकरा, महासमुंद निवासी जयंत यादव और बरगढ़ ओडिशा निवासी बिसीकेशन प्रधान वहां नकली नोट खपाने के लिए पहुंचे थे। तलाशी के दौरान आरोपियों के पास से 200-200 के 75 हजार के नकली नोट और दो मोबाइल बरामद हुए। 

ओडिशा से लाते थे नकली नोट छापकर 
पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि करीब चार माह से दोनों नकली नोट खपाने में लगे हुए थे। यह नोट ओडिशा के पाईकमाल निवासी सतपथी साहू से लेकर आते। वह प्रिंटर और फोटोकॉपी मशीन के जरिए नकली नोट प्रिंट कर देता है। इस पर पुलिस टीम ने पाइकमाल थाना पुलिस के साथ ग्राम मुनेकेल पहुंचे तो सतपथी अपने साथी प्रदीप धुर्वा के साथ जा रहा था। पुलिस को देख एयर पिस्टल से फायर कर दिया। 

हालांकि पुलिस ने पीछा कर दोनों को पकड़ लिया। दोनों आरोपियों के घर की तलाशी में 200-200 के 1 लाख रुपए के नकली नोट, मोबाइल, एयर पिस्टल, प्रिंटर, एक बंडल सफेद पेपर जब्त किया गया। पुलिस अब आरोपियों को कोर्ट में पेश करने की तैयारी कर रही है। इसके बाद इन्हें रिमांड पर लेने का प्रयास किया जाएगा। आरोपियों ने नकली नोट कहां-कहां खपाए हैं, इसको लेकर भी पुलिस जानकारी जुटाएगी।