आकाश चोपड़ा बोले, कप्तान विराट की जगह ले सकते हैं रोहित शर्मा

पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने कहा कि यदि विराट कोहली अगले कुछ साल में कोई बड़ी ट्रोफी जीतने में विफल रहते हैं तो ऐसे में भारतीय टीम के नेतृत्व में बदलाव की तलाश की जा सकती है।

टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली के नेतृत्व को लेकर उनकी तुलना अकसर उप-कप्तान रोहित शर्मा से की जाती है। विराट और रोहित दोनों ही इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपनी-अपनी फ्रैंचाइजी के कप्तान हैं। पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा का मानना है कि यह भारतीय टीम की खुशकिस्मती है जो उसे विराट और रोहित के रूप में दो बेहतरीन नेतृत्वकर्ता मिले।

साल 2017 में कोहली ने हर फॉर्मेट में भारतीय टीम की कमान संभाली थी, जब महेंद्र सिंह धोनी ने कप्तानी छोड़ी जबकि विराट की गैरमौजूदगी में रोहित शर्मा ने टीम का नेतृत्व किया। चोपड़ा ने कहा कि भारतीय टीम के नेतृत्व में बदलाव की तलाश की जा सकती है, यदि कोहली अगले कुछ साल में कोई बड़ी ट्रोफी जीतने में विफल रहते हैं।

आकाश चोपड़ा ने सवेरा पाशा के यूट्यूब वीडियो में कहा, ‘भारतीय टीम खुशकिस्मत है। यदि अगले 6 महीनों में या एक-डेढ़ साल में टीम इंडिया कोई बदलाव करती है तो मुझे नहीं लगता कि इससे विराट के प्रदर्शन पर कोई फर्क पड़ेगा। वह उस लेवल पर पहुंच चुके हैं, जहां से नीचे नहीं जा सकते। वह चाहे कप्तान हों या नहीं, उन पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला।’

उन्होंने आगे कहा, ‘एक टीम के तौर पर कभी-कभी आप एक अलग दिशा चाहते हैं। यदि आप उस स्तर पर पहुंचते हैं, तो रोहित शर्मा एक रेडीमेड पसंद हैं लेकिन तब तक, आपको कोहली के साथ बने रहने की जरूरत है, वह एक अच्छे कप्तान हैं।’

कोहली की कप्तानी में भारत ने सीमित ओवरों में कोई बड़ी ट्रोफी नहीं जीती है, 2017 चैंपियंस ट्रोफी के फाइनल तक पहुंचने और 2019 आईसीसी वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में जाने के अलावा। दूसरी ओर, रोहित ने 2018 निदाहास ट्रोफी और एशिया कप में खिताबी जीत में टीम का नेतृत्व किया, जबकि कप्तान के तौर पर उनका आईपीएल रेकॉर्ड बेहद शानदार है।

चोपड़ा ने कहा, ‘भारत में भी एक टी20 वर्ल्ड कप होना है। उम्मीद है कि भारत को इसमें जीत मिले। यदि वे नहीं जीतते हैं, तो आप यह सोचना शुरू कर सकते हैं कि नेतृत्व में बदलाव की तलाश की जाए।’