सरगुजा के संभागीय कोविड Hospital  से 205 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे

अंबिकापुर। सीएमएचओ डा. पीएस सिसोदिया ने बताया है कि संभागीय कोविड अस्पताल अंबिकापुर में 3 जुलाई की स्थिति में सरगुजा जिले के तीन, सूरजपुर जिले के एक और बलरामपुर जिले के पांच मरीज कोविड अस्पताल अंबिकापुर में भर्ती हैं, जिसमें दो महिला एवं सात पुरूष शामिल हैं। अब तक कोविड अस्पताल में कुल 215 कोरोना मरीज भर्ती किये गए हैं, जिनमें से 205 मरीज पूर्ण रूप से स्वस्थ होकर घर वापस लौट गए हैं तथा एक मरीज को रायपुर रिफर किया गया है। शुक्रवार को 25 संदिग्ध मरीजों का सैम्पल लिया गया है। कोविड-19 वार्ड में भर्ती एक मरीज को माइल्ड सिम्पटम है तथा भर्ती अन्य सभी मरीज एसिम्पटोमेटिक हैं। चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ द्वारा मरीजों की सतत निगरानी कर उपचार किया जा रहा है। मरीजों का बीपी पल्स एवं अक्सीजन सेचूरेशन एवं अन्य वाईटल्स सामान्य है।

इससे पहले एक स्थिति यह भी आई थी जब अस्पताल में सिर्फ एक मरीज भर्ती रह गया था। शेष सभी स्वस्थ्य होकर घर जा चुके थे, लेकिन अचानक बरामपुर और सूरजपुर से नए मामले आने के बाद उपचाररत मरीजों की संख्या बढ गई। संभागीय अस्पताल में कोविड उपचार और नियंत्रण के लिए सभी जरूरी व्यवस्थाएं की गई हैं। स्वास्थ्य मंत्री का गृह जिला होने की वजह से भी इस यहां उपचार की व्यवस्था पर पूरा फोकस किया गया है। डॉक्टरों का कहना है कि सिर्फ एक मरीज का स्वास्थ्य अधिक खराब होने की वजह से स्थिति नियंत्रण से बाहर हो गई थी, इस वजह से मरीज को रायपुर रीफर किया है। इसके अलावा अन्य भर्ती मरीजों की रिकवरी दर काफी बेहतर है। वे भी जल्द स्वस्थ्य हो कर अपने घर लौट सकेंगे। बता दें कि सरगुजा संभाग के चार जिलों में अब तक कुल 284 कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। इनमें सरगुजा में 56, कोरिया में 59, सूरजपुर में 24 और बलरामपुर में 145 मरीज अब तक मिले हैं। जशपुर जिले के मरीजों का उपचार रायगढ के कोविड अस्पताल में चल रहा है। यहां अब तक 189 कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। डॉक्टरों का कहना है कि अब धीरे-धीरे स्थिति नियंत्रण में आ रही है। बस लोगों को फिजिकल डिस्टेंसिंग और स्वच्छता के नियमों का पालन करना होगा।