Medical Collage के डॉक्टर, पत्नी और बच्चा पाया गया कोरोना संक्रमित

राज्य के घनी आबादी वाले प्रमुख शहरों में कोरोना वायरस संक्रमण का प्रसार तेजी के साथ हो रहा है। रोजाना नए मामले सामने आ रहे हैं। चिंताजनक बात यह भी है कि मरीजों के उपचार में लगे डॉक्टर और अन्य स्वास्थ्य कर्मी भी संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। शहर के एक डॉक्टर को जांच में काेरोना पॉजिटिव पाया गया है। डॉक्टर की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उनकी पत्नी और बच्चे की भी कोरोना जांच की गई जिसमें वे भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। तीनों को उपचार के लिए कोविड अस्पताल में दाखिल कराया गया है। जिले में अब कोरोना वायरस ने अपना दायरा पूरी तरह से फैला दिया है। धीरे- धीरे कोरोना वायरस की पकड़ रायगढ़ जिले में अब मजबूत होती जा रही है। लगातार मिल रहे मरीजों से रायगढ़ शहर सहित ग्रामीण आंचल में भी अब लोगों में दहशत व्याप्त हो चुका है। जिले में देर रात 12 कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है। इस तरह शुक्रवार दोपहर में 4 मरीज और अभी के 12 मरीजों को मिलाकर कुल 16 कोरोना मरीज सामने आए हैं। इसमें 02 मरीज शहर भीतर कोतरा रोड से मिला है। ये दोनों मरीज प्राइमरी कांटेक्ट में आने से पॉजिटिव हुए हैं। ये दोनों होम क्वॉरेंटाइन में थे। 04 मरीज धरमजयगढ़ के क्वॉरेंटाइन सेंटर से मिले हैं जिनमें से दो व्यक्ति राजस्थान से वापस आए थे और 01 व्यक्ति गोवा से वापस आया है और चौथा मरीज टीबी की बीमारी से ग्रसित है इसका कोई भी ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है। इसी तरह 02 मरीज पाकरडीह (सारंगढ़) से मिले हैं। ये दोनों कोरोना अपडेट इन मरीज के प्राइमरी कांटेक्ट में आने से पॉजिटिव हुए हैं इन दोनों को स्वास्थ्य विभाग ने होम आइसोलेशन में रखा था। 1 मरीज घरघोड़ा से है यह एक बैंक कर्मचारी भी है। 2 मरीज धरमजयगढ़ से ही हैं जिनकी कांटेक्ट ट्रेसिंग अभी नहीं हो पाई है।