Lok Shakti

Nationalism Always Empower People

कल्पना सोरेन ने गांडेय विधानसभा चुनावों में जीत दर्ज की

रांची। झारखंड (Jharkhand) के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन (Kalpana Soren) ने गिरिडीह जिले के गांडेय विधानसभा उपचुनाव (Gandey Assembly By-election) में जीत दर्ज की है। उन्होंने अपने प्रतिद्वंद्वी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिलीप कुमार वर्मा को करीब 26 हजार मतों से पराजित किया है। पूरी कर ली गई है। लेकिन, यहां चुनाव आयोग ने परिणाम की आधिकारिक तौर पर घोषणा नहीं की है। गांडेय सीट पर विधायक डॉ. सरफराज अहमद के अंत से नीचे हुई थी।

प्रारंभिक छह राउंड की गिनती में सोरेन की कल्पना की गई थी, लेकिन इसके बाद वे लगातार बढ़त हासिल करते रहे। कल्पना सोरेन ने पति हेमंत सोरेन के 31 जनवरी को जेल जाने के बाद सक्रिय राजनीति में कदम रखा है। राजनीति में अपने प्रारंभिक तौर पर प्रवेश चार मार्च को गिरिडीह में झारखंड मुक्ति मोर्चा के स्थापना दिवस पर रैली के साथ आयोजित हुई। कल्पना कीजिए कि सोरेन झारखंड मुक्ति मोर्चा में किसी ओहदे पर नहीं हैं। इसके बावजूद लोकसभा चुनाव के प्रचार अभियान के दौरान वह न सिर्फ अपनी पार्टी, बल्कि ‘इंडिया’ गठबंधन की ओर से राज्य में सबसे बड़े स्टार प्रचारक के रूप में उभर कर सामने आईं।

रांची में 21 अप्रैल को ‘भारत’ गठबंधन की ओर से साझा तौर पर बड़ी रैली हुई और इसके बाद वह राज्य में गठबंधन का सबसे बड़ा चेहरा बन गई। उन्होंने राज्य के सभी 14 कांग्रेस क्षेत्रों में गठबंधन के पक्ष में जनसभाओं की और एक तरह से छह महीने के भीतर राज्य का चप्पा-चप्पा डाला। पार्टी की ओर से उन्हें हेलीकॉप्टर उपलब्ध कराया गया, जिससे वह एक दिन में तीन-चार रैलियों में शामिल हो गईं। कल्पना सोरेन ने चुनावी जनसभाओं में हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी का मुद्दा प्रमुखता से उठाया। उन्होंने आदिवासियों, महिलाओं, युवाओं के लिए सरकार के कार्य का ब्यौरा अपने अंदाज में पेश किया। उन्होंने अपने भाषणों में केंद्र की सरकार और भाजपा को भी प्रभावित किया।

यह भी पढ़ें:

नतीजे आने से पहले कंगना रनौत ने मां से लिया आशीर्वाद

राहुल गांधी बने प्रधानमंत्री: संजय राउत