Lok Shakti

Nationalism Always Empower People

पति की मौत के बाद पति तक पहुंची 3 पत्नियां, चकराए अफसर

झांसी। उत्तर प्रदेश के झांसी से एक अजीब-गजब मामला सामने आया है। यहां सिंचाई विभाग में एक कर्मचारी की मौत के बाद अपराधी तीन पत्नियां पहुंच गईं। एक नौकरी पर 3 महिलाओं के दावे से विभाग के अधिकारी भी चकरा गए हैं।

तीनों ही खुद को सिंचाई विभाग के कर्मचारियों की पहली पत्नी मान रही हैं और नौकरी देने की मांग कर रही हैं। इतना ही नहीं, तीन महिलाओं ने कर्मचारियों के साथ विवाह संबंधी दस्तावेज भी पेश किए हैं। अदिति राव हैदरी जूनियर ने कहा कि वह इस मामले में अपना पक्ष रख रहे हैं।

प्रेरित, पूरा मामला सिंचाई विभाग के माताटीला खंड का है। यहां सिल्ट खंड में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के तौर पर तैनात संतोष कुमार की कैंसर की वजह से 6 फरवरी को मौत हो गई थी। पति की मृत्यु के बाद उसकी जगह नौकरी की मांग करके तालबेढा निवासी क्रांति वंशकार घटनाएं हुईं।

यमुना एक्सप्रेसवे पर 11सालों में हुई 3 हजार करोड़ कीटैक्स वसूली, देखिए 2012 से लेकर अब तक का आंकड़ा

क्रांति वंशकार ने संतोष के मृत्यु प्रमाण पत्र सहित वारिसयान सहित अन्य दस्तावेज गवाहों को सौंपे। उसके कुछ दिन बाद भोपाल की रहने वाली सुनीता वर्मा भी दफ्तर आ धमकीं। सुनीता ने भी खुद को संतोष की पत्नी बताया और नौकरी देने की गुहार लगाई। रिपोर्टर ने जब डीवीडी रखने के बाद सुनीता ने भी शादी के कार्ड, फोटो व अन्य दस्तावेज सौंपे।

तीसरी भी कारलाईल यात्रा तो उड़े होश

बताया जा रहा है कि दोनों महिलाओं के आश्रितों को देखकर मलबे के होश उड़ गए। इधर, पहले पहुंची दो महिलाओं के गवाहों की नजर चल ही रही थी। उधर, इसी बीच तालबेहट की रहने वाली राजो भी माताटीला कार्यालय आ पहुँची। राजो ने भी खुद को संतोष की पत्नी बताया और अब वे नौकरी पाने का दावा कर रहे हैं कि उन्हें पति की मृत्यु के बाद अनुकंपा नियुक्ति मिलनी चाहिए।

चकरा गया विडियो

मामले की सुनवाई के लिए सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ बड़ी बैठक हुई है। एक कर्मचारी के तीन पत्नी होने के दावे से सरकारी मुलाजिमों के सिर चकरा गए हैं। हालांकि उपकरण मामले की समस्याएं में फंसे हुए हैं.

Lalluram.Com के व्हाट्सएप चैनल को फॉलो करना न भूलें.
https://whatsapp.com/channel/0029Va9ikmL6RGJ8hkYEFC2H