मुख्यमंत्री शिवराज ने कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए हर जिले में अस्पतालों में व्यवस्था की गई है।

निजी अस्पतालों को भी अनुबंधित किया है। बहुत से कोरोना संक्रमित घर पर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। इसके लिए हर जिले में कमांड कंट्रोल रूम बनाए जाएं, ताकि निरंतर देखभाल और निगरानी की जा सके। यहां एंबुलेंस भी रखी जाए और दिन में कम से कम दो बार मरीज के स्वास्थ्य की जानकारी ली जाए। यह निर्देश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना नियंत्रण और व्यवस्थाओं की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा करते हुए कलेक्टरों को दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश धीरे-धीरे पूरी तरह से लॉकडाउन खोलने की दिशा में आगे ब़़ढ रहा है। ऐसे में यह जरूरी है कि हमारी मशीनरी इसकी चुनौतियों के लिए पहले से ही तैयार हो जाए। कोरोना का इलाज कर रहे निजी अस्पतालों में जरूरी संसाधन हों, यह देखा जाए। साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि मरीजों से मनमाना शुल्क न वसूला जाए।