भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन सेवा सप्ताह के रूप में मनाएगी।

प्रदेश भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर को सेवा सप्ताह के तहत मनाएगी। पीएम के जन्मतिथि को ध्यान में रखते हुए  पार्टी ने 14 से 20 सितंबर तक सेवा सप्ताह मनाने का फैसला किया है। गुरुवार को प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने अभियानों तथा कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए आगामी टास्क तय किए। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह तथा प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने प्रदेश पदाधिकारियों, क्षेत्रीय अध्यक्षों, क्षेत्रीय संगठन मंत्रियों तथा जिलाध्यक्षों से डिजिटल माध्यम से संवाद किया।

संवाद के दौरान सेक्टर प्रभारी व सेक्टर संयोजक प्रशिक्षण के साथ पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयन्ती पर बूथ स्तर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों पर चर्चा की। पार्टी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के जन्मदिन को सेवा सप्ताह के रूप में मनाने का फैसला हुआ। बूथ सत्यापन व ई-बुक की समीक्षा भी की गई। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि कोरोना काल में सेवा को ही संगठन मानकर पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए सेवा कार्यों के दस्तावेज संकलन की ई-बुक का कार्य पूरा हो चुका है। सात सितम्बर से मंडल, जिला व प्रदेश की सेवा कार्यों की ई-बुक के विमोचन का कार्य प्रारम्भ होगा।

उन्होंने बूथ सत्यापन की बिन्दुवार समीक्षा करते हुए कहा कि जहां एक ओर विपक्ष ट्वीटर, फेसबुक पर बयानबाजी तक सीमित है तो वहीं इस वैश्विक महामारी में भी भाजपा ने समय से बूथ सत्यापन का कार्य पूरा कर लिया। प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने कहा कि 25 सितम्बर पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयन्ती पर पार्टी बूथ स्तर पर कार्यक्रम आयोजित करेगी। पार्टी के कार्यकर्ता अन्त्योदय की विचारधारा के साथ बूथ पर चर्चा करेगें।

अन्त्योदय लक्ष्य के साथ जन सामान्य के जन जीवन को खुशहाल बना रही केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार की योजनाओं को भी साझा करेगें। उन्होंने कहा कि आगामी समय में सेक्टर प्रभारी तथा सेक्टर संयोजकों का प्रशिक्षण के विधानसभावार कार्यक्रम होगें। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने आत्मनिर्भर भारत का संकल्प लिया है। इस परिकल्पना को साकार रूप देने की जिम्मेदारी भी हम सभी की है। आत्मनिर्भर भारत निर्माण में जन-जन की आत्मनिर्भरता से जनभागीदारी सुनिश्चित करने के लिए भी हमें लोगों को प्रोत्साहित करने का काम भी करना हैं।