छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शुक्रवार दोपहर दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं।

 वहां वे कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित अन्य नेताओं से मुलाकात करेंगे। माना जा रहा है कि सोनिया गांधी से उनकी मरवाही विधानसभा उपचुनाव और मंडल-निगमों की लिस्ट पर चर्चा हो सकती है। पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी के निधन से मरवाही की सीट खाली हुई है।

मरवाही विधानसभा उप चुनाव 28 अक्टूबर तक होने हैं। अभी तक प्रत्याशी चयन के लिए कोई नाम तय नहीं किया गया है। पूर्व सीएम अजित जोगी का गढ़ रही मरवाही विधानसभा से उनके बेटे अमित जोगी पहले ही चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके हैं। वहीं कांग्रेस सीट अपने पाले में डालने की जुगत में लगी हुई है। इन सबके बीच अभी कांग्रेस और भाजपा प्रत्याशी का नाम तय नहीं कर सकी है।

चुनाव के बाद से ही तमाम कार्यकर्ता और पदाधिकारी लाल बत्ती के इंतजार में हैं। एक माह पहले निगम-मंडलों की दूसरी सूची तैयार कर ली गई, लेकिन मुख्यमंत्री निवास में कांग्रेस समन्वय समिति की तीन घंटे चली बैठक के बाद भी नाम फाइनल नहीं किए जा सके। गुण-दोष के आधार पर तैयार की गई इस लिस्ट के नामों पर आलाकमान की मुहर का इंतजार था। संभावना है कि इस पर भी फैसला होगा।