देश के नागरिक अब बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिपशन के भी अपना कोरोना टेस्ट करा सकेंगे.

अब बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिपशन के भी लोग करा सकेंगे कोरोना टेस्टअगर किसी को आशंका है कि उसे कहीं कोरोना वायरस का संक्रमण तो नहीं हो गया तो आप बिना डॉक्टर की सिफारिश के जांच करवा सकते हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 टेस्टिंग को लेकर जारी दिशानिर्देश में सुधार करते हुए लोगों को यह अधिकार दे दिया है. पहले की कोविड टेस्ट गाइलडलाइंस के तहत कोरोना जांच के लिए किसी उपयुक्त डॉक्टर के प्रिस्क्रिपशन की जरूरत पड़ती थी.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अगर कोई व्यक्ति अपना कोरोना टेस्ट करवाना चाहता है तो टेस्ट करने वाला लैब उससे किसी डॉक्टर का प्रेस्क्रिप्शन की मांग नहीं करेगा. यानि अगर किसी व्यक्ति के पास डॉक्टर का प्रेसक्रिप्शन नहीं है तो भी कोई लैब उसका सैंपल लेने और उसकी जांच करने से इनकार नहीं कर सकता है.

नई गाइडलाइंस में कहा गया है कि जिसी किसी व्यक्ति की इच्छा है और जो यात्रा कर रहा है, अगर वो चाहे तो ऑन डिमांड टेस्ट करवा सकता है. इसके लिए किसी डॉक्टर की सिफारिश की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है.