कलेक्टर ने विपणन अधिकारी को दिया नोटिस बारिश से धान खराब

नरेला, देवरी, फोरलेन सहित अन्य ओपन कैप के स्टॉक में रखा धान सामान्य बारिश में भीगने से अंकुरित होकर खराब हो गया। इस मामले में जिम्मेदार विपणन विभाग के जिला विपणन अधिकारी शिशिर सिन्हा को कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। तीन दिनों में ओपन कैप में भंडारित धान के खराब होने के मामले में विपणन अधिकारी से जवाब तलब किया गया है।

नोटिस में चेतावनी दी गई है कि तय समय में जबाव न देने पर एक पक्षीय कार्रवाई की जाएगी। बारिश से भीगने के कारण खराब हुई धान की आर्थिक क्षति का आकलन करवाकर संपूर्ण राशि वसूल करने की कार्रवाई प्रस्तावित करने की भी चेतावनी नोटिस में दी गई है। प्रतिवेदन में कहा गया है कि कैपों के स्टेक में रखी धान भीगने से अंकुरित होकर खराब व काला हो गया है। जो किसी भी स्थिति में मिलिंग के लिए उपयुक्त नहीं है।

खरीफ सीजन 2019-20 में समर्थन मूल्य पर खरीदा गया धान ओपन कैप में भंडारित कराया गया था। बालाघाट जिले की 59295.65 मीट्रिक टन (5.92 लाख क्विंटल) व सिवनी जिले की 40548.2 मीट्रिक टन (4.05 लाख क्विंटल) धान मार्कफेड के नरेला, देवरी व फोरलेन ओपन कैप में भंडारित कराया गया था। देखरेख के अभाव में यहां रखी धान बारिश में भीगकर खराब हो गया है। जिससे शासन को भारी आर्थिक क्षति होने की संभावना बनी हुई है।