बिजली नहीं मिलने से खेतों की सिंचाई नहीं हो पा रही

क्षेत्र में लचर प्रबंधन के चलते विद्युत व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित है। इसका सबसे बड़ा खामियाजा स्थानीय किसानों को भुगतना पड़ रहा है। बिजली नहीं मिलने से किसान अपनी धान की फसल की सिंचाई नहीं कर पा रहे हैं। इससे खेतों में दरारें निकल आई हैं व फसल सूखने लगी है। किसानों ने बताया कि लगातार एक घंटे भी लाइट नहीं मिल पाती। लगातार ट्रिपिंग होने से सिंचाई प्रभावित हो रही है।

समिति ग्राम हल्का निवासी किसान संतोष कड़पा ने बताया कि जैसे तैसे उन्हें बमुश्किल 5 घंटे लाइट मिलती है। इस दौरान लाइट कई बार ट्रिप होते है। किसानों ने बताया कि लाइट मिल भी जाती है तो वोल्टेज इतना कम होता है कि पंप चल ही नहीं पाते। इससे फसल प्रभावित हो रही है। सिलौंड़ी, अतरसूमा, लालपुर, गोपालपुर, सगवां, नेगई, तिलमन, पाली, भैंसवाही, झारा पानी, हल्का, बोदा, कोसमघाट, दशरमन आदि ग्राम के किसान पर्याप्त बिजली नहीं मिलने से अपनी फसल की सिंचाई नहीं कर पा रहे हैं। इससे फसल नष्ट होने की कगार पर पहुंच गई है।