मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 6 कोरोना रथ रवाना किए।

 ये रथ शहरी और ग्रामीण इलाकों में कोविड के बारे में लोगों को ऑडियो वीडियो के जरिए जानकारी देंगे। इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए सीएम ने कहा कि लोगों से यही अपील है कि वो अपनी बीमारी को छुपाएं ना, कोरोना के मामले में जितना डीले करेंगे उतना नुकसान होगा, लक्षण नहीं है तो होम आइसोलेशन की अनुमति देंगे, दवा पहुंचा जाएगी घर पर और अगर लक्षण है तो डॉक्टर की सुविधा है, पर्याप्त बेड हैं। मरीजों की संख्या बढ़ रही है तो हम उसी अनुपात व्यवस्था बढ़ाने की ओर काम कर रहे हैं।

रोटरी व जेसीस क्लब जैसी सामाजिक संस्थाएं कोरोना विजय रथ के इस जागरूकता कार्यक्रम का संचालन कर रही हैं। इस रथ के माध्यम से आम लोगों को मास्क पहनने, सामाजिक दूरी के नियम का पालन करने, भीड़-भाड़ से बचने, व्यक्तिगत स्वच्छता का विशेष ध्यान रखने के संदेश के साथ सर्दी, खांसी, बुखार, फ्लू, स्वाद व गंध का पता न लगना जैसे लक्षणों पर चिकित्सकों से परामर्श व दवा के संबंध में अवगत कराया जाएगा। कोरोना मुक्ति रथ के माध्यम से जरूरी जानकारियों से संबंधित पाम्प्लेट्स भी वितरित किए जाएंगे।