ऑस्ट्रेलिया ने आखिरी वनडे मैच में इंग्लैंड को 3 विकेट से हरा दिया है.

मैक्सवेल और एलक्स कैरी के शतकों की बदौलत ऑस्‍ट्रेलिया ने इंग्लैंड को हराया इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने तीन वनडे मैचों की सीरीज़ पर 2-1 से कब्जा कर लिया. इस मैच में जीत के हीरो रहे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ ग्लेन मैक्सवेल और एलक्स कैरी. इन दोनों ने धमाकेदार शतकीय पारी खेली. ऑस्ट्रेलिया ने जीत के लिए 303 रनों का टारगेट 2 गेंद पहले ही पूरा कर लिया. पिछले चार साल में इंग्लैंड की घरेलू वनडे सीरीज़ में ये पहली हार है. साल 2016 से इंग्लैंड की टीम लगातार अपने मैदान पर जीत रही थी.

ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत बेहद खराब रही. सिर्फ 73 के स्कोर पर ही पांच विकेट गिए गए थे. डेविड वॉर्डर और एरॉन फिंच जैसे दिग्गज 11 वें ओवर तक पेविलियन लौट गए. वॉर्नर 24 रन बनाने के बाद जो रूट की गेंद पर बोल्ड हो गए. जबकि फिंच को वोक्स ने चलता कर दिया. ऑस्ट्रेलिया का पहला विकेट 21 के स्कोर पर गिरा. इसके बाद बाद ऑल्ड ट्रैफर्ड के मैदान पर विकटों की पतझड़ शुरू हो गई. 17 वें ओवर तक ऑस्ट्रेलिया की आधी टीम आउट हो गई. 303 रनों का लक्ष्य किसी पहाड़ की तरह लगने लगा.

मैच के इस मोड़ पर ऑस्ट्रेलिया की हार तय लग रही थी. लेकिन इस मुश्किल मौके पर मैक्सवेल और कैरी ने मोर्चा संभाला. इन दोनों ने छठे विकेट के लिए 212 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी निभाई. मैक्सवेल ने सिर्फ 90 गेंदों पर 108 रनों की पारी खेली. उन्होंने इस दौरान 4 चौके और 7 छक्के लगाए. इसके अलावा कैरी ने 114 गेंदों पर 106 रनों की शानदार पारी खेली. कैरी 49 वें तक क्रीज़ पर डटे रहे. मैक्सवेल को प्लेयर ऑफ द सीरीज़ और प्लेयर ऑफ द मैच दोनों खिताब दिए गए.

इससे पहले जॉनी बेयरस्‍टो इंग्लैंड की पारी के हीरो रहे. उन्होंने 126 गेंदों पर 122 रनों की शानदार पारी खेली. इसके अलावा सैम बिलिंग्स ने 57 और क्रिस वोक्स ने 53 रनों की नाबाद ताबड़तोड़ पारी खेली. वैसे इंग्लैंड की शुरुआत बेहद खराब रही. स्‍टार्क ने मैच की पहली ही गेंद पर सलामी बल्‍लेबाज जेसन रॉय को गोल्‍डन डक कर दिया. रॉय के पवेलियन लौटने के बाद स्‍ट्राइक पर आए जो रूट भी स्‍टार्क की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू हो गए और इस तरह से इंग्‍लैंड ने पारी की शुरुआती दो गेंदों पर बिना खाता खोले ही दो बड़े विकेट गंवा दिए. हालांकि इंग्लैंड की टीम 303 रनों का टारगेट खड़ा करने में कामयाब रही.