शिक्षा सत्र 2020-21 में यूजी-पीजी कोर्स में दाखिले के लिए अब केवल दस दिन शेष है।

पीजी कोर्स में आवेदन के लिए विद्यार्थियों के पास 19 अक्टूबर तक का समय है जबकि बीए, बीकॉम और बीएससी में सीएलसी तीसरे चरण की मेरिट लिस्ट भी सोमवार को जारी होगी। उधर कॉलेजों में सीधे दाखिले के लिए 29 अक्टूबर तक प्रक्रिया चलेगी।

यूजी कोर्स में बीकॉम टैक्स, बीकॉम ऑनर्स, बीबीए हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन, बीएससी सीड टेक्नोलॉजी में विद्यार्थियों की दिलचस्पी अधिक है। कॉलेज प्रबंधन के मुताबिक इन कोर्स में बेहद कम सीटें बची हैं। सोमवार (19 अक्टूबर) को मेरिट लिस्ट आने के बाद विद्यार्थियों को 26 अक्टूबर तक फीस भरना होगी। ऑफलाइन कॉलेज भी 26 अक्टूबर तक विद्यार्थियों को दाखिला दे सकेंगे।

प्रवेश प्रक्रिया खत्म होने के बाद कॉलेजों को खाली सीटों का ब्यौरा देना है। यहां तक विद्यार्थियों की जानकारी भी पोर्टल पर अपलोड करना होगी। निजी कॉलेज की सीईओ कविता कासलीवाल का कहना है कि विद्यार्थी अब इंडस्ट्री की जरूरत को समझते हुए कोर्स में दाखिला ले रहे हैं।

पीजी कोर्स में सोमवार तक विद्यार्थियों को पंजीयन करवाना है, लेकिन मंगलवार तक दस्तावेज सत्यापन की प्रक्रिया चलेगी। अनिवार्य रूप से सत्यापन करवाना होगा। तभी मेरिट लिस्ट में विद्यार्थी जगह पा सकेंगे। एमए, एमकॉम और एमएससी कोर्स की सूची 24 अक्टूबर तक जारी होगी।

उसके आधार पर विद्यार्थियों को सीट अलॉटमेंट किया जाएगा। फिर 29 अक्टूबर तक फीस भरना होगी। अतिरिक्त संचालक डॉ. सुरेश सिलावट का कहना है कि कोर्स में दाखिले के बाद कॉलेजों को प्रत्येक विद्यार्थियों की जानकारी विभाग को भेजना है। कक्षाएं शुरू होने के महीनेभर में विद्यार्थियों के छात्रवृत्ति संबंधित फॉर्म भरे जाएंगे।