Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

छत्तीसगढ़ में पिछले महीने की तुलना में कोरोना से होने वाली मृत्युदर बढ़ी है।

छत्तीसगढ़ में पिछले महीने की तुलना में कोरोना से होने वाली मृत्युदर बढ़ी है। सितंबर में जहां प्रतिदिन औसतन 22.66 लोगों की संक्रमण से जान गई थी। वहीं अक्टूबर में महज 10 दिनों में 32.54 की औसत ने लोगों ने दम तोड़ा है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, 18 मार्च को राज्य में कोरोना का पहला केस मिला था। इस बीच मार्च से मई तक 492 संक्रमित मिले थे। वहीं एक की मौत हुई थी।

मगर, माह बीतते जाने के बाद महीने दर महीने संक्रमण की स्थिति भयावह होती गई। उससे भी अधिक मौत के मामले चौंकाने वाले नजर आए हैं। जून महीने में 2,266 संक्रमित मिले और 12 लोगों ने दम तोड़ा। जुलाई में 6,342 संक्रमितों की पहचान की गई और 41 की मौत हुई। इसी तरह अगस्त में 22,361 संक्रमित मिले और 223 की मौत हुई। अगस्त में 82,549 संक्रमित मिले, यानी 30 दिनों में हर दिन 2751.61 मरीजों की पहचान की गई और 680 मौतें यानी प्रत्येक दिन 22.66 लोगों ने दम तोड़ा।

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, अक्टूबर में 24 दिनों में 58 हजार 978 संक्रमितों की पहचान की गई है। इतने दिनों में मौत के 781 मामले सामने आए हैं। अब तक मिले कुल एक लाख 72 हजार 580 मरीजों में एक लाख 46 हजार 222 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। इसमें से सबसे अधिक मरीज होम आइसोलेशन में स्वस्थ हुए हैं। सामान्य और कम लक्षण वाले मरीजों के लिए होम आइसोलेशन की सुविधा एक तरह से संजीवनी साबित हुई है। इसकी वजह से राज्य में संक्रमण के मामले मिल तो रहे हैं, लेकिन स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है।