Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

आयुष्मान भारत योजना छत्तीसगढ़ में 15 अगस्त तक खुल जाएंगे 650 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर

आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश में 650 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर 15 अगस्त 2018 तक प्रारंभ किए जाएंगे। इन हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में गरीब परिवार के मरीजों के बेहतर इलाज के लिए 36 प्रकार की दवाइयां तथा 10 प्रकार की आवश्यक कीट शुरूआत में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने प्रदेश के बीजापुर जिले के जांगला में राष्ट्रव्यापी आयुष्मान भारत योजना का शुभारंभ इसी वर्ष 14 अप्रैल को बाबा साहेत डॉ. भीमराव अम्बेडकर की जंयती पर किया था। योजना के तहत राज्य में 15 अगस्त के पहले 800 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर की स्थापना किये जाने का लक्ष्य है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और स्वास्थ्य मंत्री श्री अजय चन्द्राकर के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा योजना के बेहतर क्रियान्वयन के लिए तेजी से तैयारी की जा रही है।
      स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियो ने आज यहां बाताया कि हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में 12 प्रकार की सेवायें प्रदान की जा रही है। केन्द्र सरकार ने छत्तीसगढ़ में तेज गति से हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के क्रियान्वयन की सराहना की हैं। अधिकारियों ने बताया कि इन वेलनेस सेंटरों के लिए छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कार्पोरेशन के माध्यम से दवाइयों और उपकरणों की पूर्ति जाएगी। वहां उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में स्थानीय क्रय के माध्यम से 25 हजार रूपए प्रति केन्द्र तक दवा खरीदी के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा राशि जारी किए जा चुके हैं। प्रदेष में 15 अगस्त के पहले 800 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर की स्थापना को लेकर तैयारी की जा रही है। इसके लिये प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और उप स्वास्थ्य केन्दों्र की भवनों को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में रंग-रोगन किया जा रहा है।
       अधिकारियो ने बताया कि हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर मंे कार्य करने के लिये विशेषज्ञ चिकित्सक, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी, सहायक चिकित्सा अधिकारी तथा स्टॉफ नर्स के कुल 150 लोगों सहित महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। आवश्यकता के आधार  पर जपाइगो एवं राज्य स्वास्थ्य संसाधन केन्द्र के द्वारा हेन्ड होल्डिंग सपोर्ट और तकनीकी सहयोग दिया जा रहा है। प्रदेश के 135 मॉडल हेल्थ सेंटर में टेली मेडिसिन हेतु प्रशिक्षण की तैयारी की जा रही है। इसके अतिरिक्त रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर में सिविल सर्जन सर्टिफिकेट कोर्स इन कम्युनिटी हेल्थ कोर्स 15 जुलाई से प्रारंभ किया गया है। हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के सफल क्रियान्वयन के लिये स्टॉफ नर्सों को वीआईए-स्क्रीनिंग ऑफ सरवायकल कैंसर का दो सप्ताह प्रषिक्षण एम्स रायपुर में 23 जुलाई से 5 अगस्त तक दिया जाएगा। पहले चरण में कोरबा, बस्तर, राजनांदगांव, महासमुंद, कोण्डागांव, कांकेर एवं बीजापुर के दो-दो मॉडल हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के स्टॉफ नर्स को रेसिडेन्सियल प्रशिक्षण दिया जाएगा।