छिंदवाड़ा. एएसआई देवचंद नागले की बदमाशों ने हत्या कर दी . शहीद एएसआई एक वारंटी को गिरफ्तार करने के लिए गए थे. उमरेठ थाने में तैनात एएसआई देवचंद नागले को मुखबिर से सूचना मिली थी कि बदमाश जौहर ठाकुर जमुनिया जेठू गांव में मौजूद है. सूचना मिलने पर एस आई एक कोटवार और आरक्षक को साथ में लेकर बगैर हथियार के गांव में गए थे.
एएसआई नागले रात को 2 बजे जब गांव में पहुंचे आरोपी ने परिवार के सदस्यों और कुछ गांव वालों के साथ उनके ऊपर हमला कर दिया. एएसआई नागले पर जैसे ही हमला हुआ उनके साथ मौजूद आरक्षक और कोटवार उनको छोड़कर भाग गए. मौके पर एएसआई नागले अकेले रह गए. ऐसे में आरोपी ने कुछ लोगों के साथ मिलकर निहत्थे एएसआई पर कुल्हाड़ी और लाठियों से हमला कर दिया और उनको मौत के घाट उतार दिया. आरोपी का पुराना आपराधिक रिकॉर्ड भी बताया जा रहा है. शहीद एएसआई देवचंद नागले को दोपहर 12:30 बजे कंट्रोल रूम छिन्दवाड़ा में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया.

Leave comment