Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

चारभुजा मंदिर पहुंची सीएम राजे, थोड़ी देर में शुरू होगी गौरव यात्रा, अमित शाह दिखाएंगे हरी झंडी

जयपुर/ चारभुजा।राजस्थान में आज से चुनावी चौसर बिछ जाएगी। आरोप-प्रत्यारोपों के बीच दिसंबर में सत्ता का फाइनल होगा जिसमें शह और मात होगी। पूरी तरह चुनावी मोड में आ चुकी भाजपा फिर से सत्ता में आने के लिए आज से फील्ड में उतर गई है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की राजस्थान गौरव यात्रा उदयपुर संभाग के चारभुजानाथ से आज से शुरू होगी। यात्रा की शुरुआत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह करेंगे। शाह मुख्यमंत्री की यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे। समापन 30 सितंबर को अजमेर में होगा जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी मौजूद रहेंगे। अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस यात्रा रथ से पूरे प्रदेश की परिक्रमा 40 दिन में पूरी होगी। शुक्रवार को सीएमआर में सीएम राजे ने पूजा-अर्चना कर रथ को चारभुजा रवाना किया।
सीएम राजे सुबह 10.15 बजे डबोक एयरपोर्ट पहुंचीं
10.40 बजे चारभुजानाथ (गढ़बोर) मंदिर पहुंचीं, दर्शन कर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को रिसीव करने डबोक एयरपोर्ट के लिए रवाना हुईं।
11 बजे अमित शाह डबोक एयरपोर्ट पहुंचे।
ऐसे चलेगी यात्रा
एक संभाग की यात्रा पूरी करने के बाद और दूसरे संभाग में यात्रा शुरू होने से पहले बीच-बीच में यात्रा को विराम दिया जाएगा। कुल 200 में से 165 विधानसभा क्षेत्रों में से यात्रा गुजरेगी और 6054 किलोमीटर की कुल दूरी तय की जाएगी। यात्रा का कार्यक्रम इस तरह से तैयार किया गया है कि हर लोकसभा क्षेत्र में सीएम की यात्रा पहुंचने से पहले स्थानीय भाजपा सांसद को उप यात्रा निकालनी होगी। वह क्षेत्र में आने वाले सभी विधानसभा क्षेत्रों में जाएंगे। साथ ही प्रत्येक भाजपा विधायक भी अपने क्षेत्र की पंचायत स्तर तक सीएम की यात्रा की पूर्व तैयारी करेगा। 40 दिन तक सचिवालय में न मुख्यमंत्री रहेंगी न ही कोई मंत्री। यानी पूरी सरकार फील्ड में रहेगी। आवश्यक दिशा-निर्देश भी अफसरों के पास फील्ड से ही पहुंचेंगे।
समापन में आएंगे पीएम नरेंद्र मोदी
यात्रा का 30 सितंबर को समापन अजमेर में होगा, इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे। चार अगस्त से 30 सितंबर तक कुल 58 दिन के यात्रा कार्यक्रम के बीच 40 दिन तक सीएम का रथ चलेगा और 18 दिन का विश्राम रहेगा। इस दौरान प्रदेश भर में सीएम 134 आम सभाएं करेंगी। 371 जगह यात्रा के स्वागत कार्यक्रम होंगे। इस बीच कई केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ नेता भी यात्रा में शामिल होंगे।