रायपुर: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने शुक्रवार को कहा कि असम के लिए राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के मुद्दे को प्रचारित नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि भारत एक ‘‘धर्मशाला’’ नहीं है जहां विदेशी घुसपैठ करेंगे.
रमन सिंह ने दुर्ग जिले में पत्रकारों से कहा,‘‘इस मुद्दे को उछाले जाने की कोई जरूरत नहीं है. क्या यह देश कोई धर्मशाला है जहां विदेशी घुसपैठ करते रहेंगे.’’ उन्होंने कहा,‘‘कोई भी यहां आता है और रहना शुरू कर देता है. उन्हें बाहर किया जाना चाहिए और इस उद्देश्य के लिए इस तरह के लोगों को (असम में) चिन्हित किया गया है.’’
मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘इन 40 लाख लोगों को (जिन्हें एनआरसी से बाहर रखा गया है) जो बाहर से आए हैं, उन्हें या तो अपनी राष्ट्रीयता साबित करनी चाहिए या फिर वहीं चले जाना चाहिए जहां से वे आए हैं.’’

Leave comment