आपको बता दें कि इसी साल के अंत में छत्तीसगढ़ के साथ-साथ राजस्थान और मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं. तीनों राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है, कांग्रेस विपक्षियों के साथ मिलकर BJP के दुर्ग को तोड़ने की कोशिश कर रही है.छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के लिए जंग शुरू हो गई है. कांग्रेस एक बार फिर सत्ता वापसी की उम्मीद लगा रही है और रमन सिंह के खिलाफ मोर्चा खोले हुए है. राज्य की 90 विधानसभा सीटों पर कांग्रेस की ओर से 1500 उम्मीदवारों ने आवेदन किया है. कांग्रेस सितंबर में अपनी पहली चुनावी लिस्ट जारी कर सकती है.
इस लिस्ट में राज्य की राजनांदगांव विधानसभा सीट पर कुल 33 लोगों ने चुनाव लड़ने की इच्छा जताई है. आपको बता दें कि मुख्यमंत्री रमन सिंह इसी सीट से विधानसभा चुनाव लड़ते हैं. रमन सिंह के अलावा अजीत जोगी भी इसी सीट से चुनाव लड़ेंगे.
मंगलवार को कांग्रेस की ओर से उम्मीदवारी के लिए आवेदन करने की अवधि खत्म हो गई है. रमन सिंह के अलावा राज्य सरकार में PWD मंत्री राजेश मूणत के खिलाफ 33, कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के सामने 35 दावेदारों ने चुनाव लड़ने की इच्छा जताई है.
इसके अलावा बेलतरा सीट पर 75 लोगों ने आवेदन है, तो वहीं बहुचर्चित सीट सक्ती विधानसभा पर कुल 50 आवेदन आए हैं. इस सीट से पूर्व केंद्रीय मंत्री, कांग्रेस चुनाव अभियान समित के प्रमुख चरणदास महंत चुनाव लड़ते हैं. लेकिन इस बार उन्होंने आवेदन नहीं किया है.
छत्तीसगढ़ में चार महीने बाद होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस सभी 90 सीटों के लिए प्रत्याशियों के नामों की घोषणा अगले माह करेगी. राज्य के पार्टी प्रभारी पीएल पुनिया ने सोमवार को यह जानकारी दी.
उन्होंने कहा कि सितंबर के पहले या दूसरे सप्ताह तक सभी नामों का ऐलान कर दिया जाएगा. प्रदेश कांग्रेस कमेटी को अगस्त के अंत तक सभी सीटों के लिए प्रत्याशियों के नाम भेज देगी.

Leave comment