Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

श्रीनगर में 15 अगस्त की पूर्व संध्या पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने की कोशिश, एक शख्स गिरफ्तार

श्रीनगर. किसी भी तरह की अफरा-तफरी से बचने के लिए एक व्यक्ति को यहां मंगलवार को राष्ट्रीय ध्वज फहराने की कोशिश में गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने यह जानकारी दी. यहां लाल चौक क्षेत्र के घंटा घर में तिरंगा फहराने की कोशिश करने वाले व्यक्ति की पहचान फिलहाल पता नहीं चल पाई है. पिछले साल इसी तरह के काम के लिए एक दर्जन शिवसैनिकों को गिरफ्तार किया गया था.
स्वतंत्रता दिवस पर सुरक्षा को देखते हुए जम्मू-कश्मीर में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है. भारत के 71 वे स्वतंत्रता दिवस से पहले प्रशासन ने तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के मद्देजर जम्मू से अमरनाथ यात्रा को रोकने का फैसला किया है. यह यात्रा तीन दिन तक रोक दी गई है. सोमवार को तीर्थयात्रियों को जम्मू से कश्मीर की ओर जाने की अनुमति नहीं दी गई थी. पाकिस्तान और भारत के स्वतंत्रता दिवस समारोह से पहले घाटी में स्थिति तनावपूर्ण है. किसी भी तरह की आतंक से जुड़ी घटना को रोकने के लिए भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है.
अगस्त की शुरुआत में पुलिस ने जम्मू कश्मीर को दहलाने की साजिश को नाकाम कर दिया था. पुलिस ने हथियारों के जखीरे के साथ एक आतंकी को गिरफ्तार किया. पुलिस को खुफिया सूचना मिली थी कि लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिदीन के लड़ाके 15 अगस्त को जम्मू और नई दिल्ली में आतंकवादी हमले करने की योजना है. इस सूचना के बाद पुलिस तथा अन्य सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट पर रखा गया है.
बता दें कि स्वतंत्रता दिवस के मद्देनज़र भारत के कई राज्यों में सुरक्षा को चौकस कर दिया है. जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश की राजधानी दिल्ली में ख़तरनाक मंसूबों को अंजाम देने की तौयारी में जुटे हैं. खुफ़िया एजेंसी ने 15 अगस्त की तौयारियों के मद्देनजर अलर्ट जारी किया है. बताया जा रहा है कि जैश ए मोहम्मद का आतंकी मोहम्मद इब्राहिम उर्फ इस्माइल राजधानी में है.
इब्राहिम, जैश-ए-मोहम्मद के चीफ मौलाना मसूद अजहर के भाई मुफ्ती अब्दुल रउफ असगर का पुराना बॉर्डी गार्ड है. सूत्रों के मुताबिक, इब्राहिम मई के पहले हफ्ते में जम्मू-कश्मीर के रास्ते भारत में दाखिल हुआ था. इसके बाद से आतंकी अपना ठिकाना बदलकर दिल्ली को दहलाने की साजिश रच रहा है. जैश का एक और मुख्य आतंकी मोहम्मद उमर भी हाल में ही जम्मू-कश्मीर से भारत में दाखिल हुआ है.