कोलकाता. पश्चिम बंगाल के पूर्वी बर्दवान जिले में पुलिस ने राज्य भर में दहशत फैलाने वाले जानलेवा ऑनलाइन मोमो चैलेंज गेम डिजाइन करने के संदेह में इंजीनियरिंग के एक छात्र को शुक्रवार को गिरफ्तार किया. इस खतरनाक गेम को लेकर छात्रों और माता-पिता में दहशत फैल गयी है. कुरसियोंग हिल के बारहवीं कक्षा के मेधावी छात्र समेत दो लोग इस गेम का शिकार हो चुके हैं.पुलिस ने बताया कि इस भयावह गेम संबंधी एक लिंक पर खोजबीन के बाद दुर्गापुर के बी सी राय पॉलीटेक्निक काॅलेज के प्रथम वर्ष के छात्र अरिंदम पात्रा को केतुग्राम स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया.
इसी कॉलेज के तृतीय वर्ष के छात्र जॉयकिशन ने पुलिस में शिकायत की थी कि अरिन्दम ने मोबाइल फोन पर लिंक भेजकर उससे इस गेम को खेलने के लिये कहा था. वह भयभीत हो गया और उसने शीघ्र ही इसकी शिकायत पुलिस में की.चौबीस दक्षिण परगना जिले में भी सिविल इंजीनियरिंग के छात्र को इस गेम के संबंध में मोबाइल फोन पर संदेश मिला है. संदेश में कहा गया है,“ हाय, मैं मोमो हूूं.” पुलिस मामले की जांच कर रही है.यह ऑन लाइन गेम भी ब्ल्यू व्हेल जैसा है जो आत्महत्या की चुनौती के बाद खत्म होता है.
ब्ल्यू व्हेल गेम में विश्वभर में कई लोगों की जान गयी थी. अब व्हाट्सएप पर युवाओं को इस खतरनाक गेम के लिए आमंत्रित किया जा रहा है. पश्चिम बंगाल के एसोसिएशन ऑफ हेड्स ऑफ आईसीएसई स्कूल ने माता-पिता से बच्चों पर नजर रखने का आग्रह किया है. इसके बढ़ते खतरे को देखते हुए इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने सलाह जारी की है. कई राज्यों की पुलिस ने भी सलाह जारी की है. पश्चिम बंगाल सीआईडी ने सार्वजनिक नोटिस जारी करके गेम खेलने का निमंत्रण मिलने पर पुिलस से संपर्क करने को कहा है.
इस गेम में डरावनी सूरत वाली एक लड़की है जिसकी गोल-गोल आंखें बाहर निकली हुयी हैं. राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से इस गेम के लिए निमंत्रण मिलने की शिकायतें मिल रही हैं. निमंत्रण भेजने वाला गेम नहीं खेलने पर खतरनाक परिणाम भुगतने की धमकी देता है.

Leave comment