विजय माल्या की मिलीभगत भाजपा से थी या कांगे्रस से? इस संबंध में आज अनेक समाचार प्रकाशित हुए हैं:
>> किंगफिशर से फ्री यात्रा करते थे राहुल, हवाला कंपनी से कनेक्शन: भाजपा।
>> कांग्रेस के नेता और पूर्व पीएम ने विजय माल्या की मदद की: पीयूष गोयल।
>> भगोड़े विजय माल्या के खिलाफ बैंक यूके की कोर्ट पहुंचे।
>> जेटली ने खोली माल्या के झूठ की पोल।
>> माल्या अपने बयान से पलटा,कहानहीं हुई वित्त मंत्री जेटली से आधिकारिक मुलाकात।
>> और राहुल गांधी के हवाला कंपनी से भी हैं संबंध।
राहुल गांधी ने और कांग्रेस के अन्य नेताओं ने आज जेटली तथा भाजपा पर विजय माल्या के संदर्भ में जो आरोप लगाये हैं उससे तो यह सिद्ध होता है कि भगोड़ा विजय माल्या इन सब के लिये सत्यावादी हरीशचंद्र से भी बढ़कर इंसान हैं।
प्रत्युत्तर में भाजपा और जेटली को भी मैदान में आना ही था।
इसीलिये आर्थिक अपराधी विजय माल्या ने कहा है ‘Óमुझे दोनों बड़ी पार्टियों ने राजनीतिक फुटबॉल बना दिया और बाद में मुझे बलि का बकरा बनाया गयाÓÓ
विजय माल्या भाजपा और कांगे्रस दोनों मुख्य पार्टियों के लिये एक राजनीतिक  फुटबाल बन गया है।
बीजेपी का आरोपराहुल गांधी का एक हवाला कंपनी से था कनेक्शन संबित पात्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर एक और गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष का हवाला कंपनी से जुड़ाव था। उन्होंने इस संदर्भ में कुछ डॉक्यूमेंट भी सबके सामने रखा, जिसमें उन्होंने बताया कि राहुल गांधी का एक हवाला कंपनी से कनेक्शन था। राहुल गांधी की कंपनी ने कोलकाता की एक फर्जी कंपनी से लोन लिया। इस लोन के जरिए उन्होंने कंपनी भी खरीदी। उन्होंने आरोप लगाया कि राहुल गांधी ने 5000 करोड़ रुपये का गबन किया। उन्होंने कालेधन का इस्तेमाल किया, इसका कांग्रेस अध्यक्ष प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जवाब दें।
जुलाई ०७, २०१३ को इंडिया न्यूज में एक साक्षात्कार देते समय पूर्व रॉ ऑफिसर सिंह खुलासा किया था कि हाफिज सईद के माध्यम से कांगे्रस हवाला के जरिये अपना काला धन विदेश में भेज रही है।
: भाजपा ने गुरूवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला करते हुए कालेधन और विजय माल्या के संबंध में बड़ा आरोप लगाया। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि यंग इंडिया कंपनी में राहुलसोनिया के शेयर है, राहुल ने 5 हजार करोड़ का गबन किया है। भाजपा ने गांधी परिवार पर विजय माल्या की मदद करने और उनसे फायदा लेने का भी आरोप लगाया।
संबित ने कहा कि मनमोहन की सरकार ने माल्या की मदद की उनकी सरकार के समय माल्या के लोन भी माफ किए गए। भाजपा प्रवक्ता ने किंगफिशर का मालिक गांधी परिवार को बताते हुए आगे कहा कि किंगफिशर एयरलाइंस के लिए नियमों में भी बदलाव किया गया था। पात्रा ने दावा किया कि नियमकानून पूरे सेक्टर के लिए बनाए जाते हैं लेकिन यहां सिर्फ किंगफिशर एयलाइंस के लिए कानून बदले गए। किंगफिशर के लिए गांधी परिवार नेस्वीट डीलÓ के लिए दबाव बनाया था। किंगफिशर के लिए सेकंड रीस्ट्रक्चरिंग को छिपाया गया। प्रीडेलिवरी लोन को सिक्यॉर्ड लोन घोषित किया गया था।
संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी किंगफिशर एयरलाइंस पर बैकफुट पर चले गए हैं। कभीकभी ऐसा लगता है कि एयरलाइंस का स्वामित्व माल्या द्वारा नहीं था, बल्कि गांधी परिवार द्वारा प्रॉक्सी में था। बिजनेस क्लास अपग्रेडेशन, फ्री टिकट इत्यादि के माध्यम से गांधी परिवार किंगफिशर एयरलाइंस से होने वाले फायदे सार्वजनिक डोमेन में हैं। पात्रा ने बताया कि आरबीआई और एसबीआई में कई पत्राचार हुए थे, जिससे पता चला है कि माल्या और किंगफिशर एयरलाइंस को लेकर सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह ने नियमों को दरकिनार कर दिया था।
संबित ने कहा कि मनमोहन की सरकार ने माल्या की मदद की उनकी सरकार के समय माल्या के लोन भी माफ किए गए। भाजपा प्रवक्ता ने किंगफिशर का मालिक गांधी परिवार को बताते हुए आगे कहा कि किंगफिशर एयरलाइंस के लिए नियमों में भी बदलाव किया गया था। पात्रा ने दावा किया कि नियमकानून पूरे सेक्टर के लिए बनाए जाते हैं लेकिन यहां सिर्फ किंगफिशर एयलाइंस के लिए कानून बदले गए। किंगफिशर के लिए गांधी परिवार नेस्वीट डीलÓ के लिए दबाव बनाया था। किंगफिशर के लिए सेकंड रीस्ट्रक्चरिंग को छिपाया गया। प्रीडेलिवरी लोन को सिक्यॉर्ड लोन घोषित किया गया था।
संबित पात्रा ने आरोप लगाया कि यूपीए सरकार के दौरान विजय माल्या की किंगफिशर एयरलाइंस कंपनी के लोन माफ किए गए। किंगफिशर एयरलाइंस को बचाना मकसद था इसलिए यूपीए सरकार के दौरान नियम बदले गए।
एयरलाइंस के जरिए गांधी परिवार को फायदे मिले, वो पब्लिक डोमेन में हैं। बीजेपी का आरोपराहुल गांधी का एक हवाला कंपनी से था कनेक्शन संबित पात्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर एक और गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष का हवाला कंपनी से जुड़ाव था। उन्होंने इस संदर्भ में कुछ डॉक्यूमेंट भी सबके सामने रखा, जिसमें उन्होंने बताया कि राहुल गांधी का एक हवाला कंपनी से कनेक्शन था। राहुल गांधी की कंपनी ने कोलकाता की एक फर्जी कंपनी से लोन लिया। इस लोन के जरिए उन्होंने कंपनी भी खरीदी। उन्होंने आरोप लगाया कि राहुल गांधी ने 5000 करोड़ रुपये का गबन किया। उन्होंने कालेधन का इस्तेमाल किया, इसका कांग्रेस अध्यक्ष प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जवाब दें।

Leave comment