देश की आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था के लिए नक्सली नाशूर बन गए है. इतना ही नहीं नक्सली अब आतंकियों की राह चल रहे हैं. बिहार के जमुई में नक्सलियों ने छुट्टी पर घर गए जवान की उस वक्त हत्याकर दी जब वो अपने पूरे परिवार के साथ अपनी बेटी का बर्थडे मना रहा था. बताया जा रहा है कि 12 से 15 नक्सली देर रात जमुई के बरहट थाना इलाके में सिकंदर यादव के घर पर हमला कर दिया. AK-47 से लैस नक्सलियों ने एसएसबी जवान सिंकदर यादव पर अंधाधुंध फायरिंग की और उसकी मौके पर ही मौत हो गई.
मृतक जवान सिकंदर यादव फिलहाल मधुबनी के जयनगर में एसएसबी के 48वीं बटालियन में तैनात था. वो बीते 15 सितम्बर को ही अपनी बेटी के जन्मदिन पर घर आया था. बताया जा रहा है कि सोमवार की रात दो दर्जन की संख्या में नक्सली घर पर आए और खुद को पुलिस का आदमी बताते हुए उसे बाहर ले गए. इसके बाद जवान को सड़क पर ले जाकर जवान के पिता के सामने ही गोली मार दी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई.
घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन परिवारवालों में आक्रोश है कि घटना की जानकारी देने के बाद भी पुलिस 2 घंटे के बाद पहुंची. जानकारी के अनुसार घटना को अंजाम देने आये नक्सली दस्ते में महिला नक्सली भी शामिल थीं. मृतक जवान सिकंदर यादव 2006 में एसएसबी में शामिल हुआ था. घटना के बाद पाण्डेयठिका समेत पूरे इलाके में दहशत का माहौल है.

Leave comment