छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में आज सुबह पुलिस और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में तीन नक्सली मारे गये और एक गिरफ्तार कर लिया गया. घटनास्थल से पुलिस ने एक पिस्तौल समेत चार राइफलें बरामद की हैं. सुकमा पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ने बताया कि आज सुबह फूलबगड़ी थाने से जिला रिजर्व पुलिस बल का एक दस्ता गश्त के लिए निकला था. जब ये जवान करीब 10 किलोमीटर दूर दंतेवाड़ा-सुकमा की सीमा पर मुलेर के जंगल में  पहुंचे, तो घात लगाये नक्सलियों ने उन पर गोलीबारी कर दी.
दोनों तरफ से करीब एक घंटे तक गोलीबारी हुई, जिसमें तीन नक्सली मारे गये. इनमें से दो की शिनाख्त हो गई है. मीणा ने बताया कि गोलीबारी के दौरान तीन नक्सली घायल हुये जो गोलीबारी करते हुये भाग खड़े हुये. भागते हुए एक नक्सली को गिरफ्तार कर लिया गया, जिससे पूछताछ की जा रही है.
वहीं जिले के कोत्ताचेरु थाना क्षेत्र में कल नक्सलियों ने एक छात्र को अगवा कर लिया. छात्र भेज्जी से कोंटा आ रहा था. मीणा ने बताया कि कल सार्वजनिक वितरण प्रणाली की राशन गाड़ी कोंटा से भेज्जी गई हुई थी. वापसी के दौरान नक्सलियों ने वाहन में आग लगाने की कोशिश की, लेकिन चालक की सूझबूझ ने नक्सलियों के मंसूबों को नाकाम कर दिया.
इसी बीच नक्सलियों ने भागती हुई गाड़ी को रोकने के लिए गोलीबारी करनी शुरु कर दी. इस दौरान वहां से ये छात्र गुजर रहा था, जो गोलीबारी से बचने के लिए बाइक छोडक़र वहां से भागने लगा, लेकिन नक्सलियों ने उसे पकड़ लिया. छात्र की पहचान मुरलीगुड़ा निवासी पोडियम मुकेश के तौर पर हुई है. सूचना मिलते ही सुरक्षा बलों के जवानों ने छात्र की तलाश शुरू कर दी है. आज सुकमा के स्कूली छात्रों ने नक्सलियों से छात्र को रिहा करने की मांग कर रैली भी निकाली.

Leave comment