दिवाली रोशनी का त्योहार है और इस त्योहार पर पटाखों से खेलना हर किसी को पसंद है. बच्चे पटाखे फोड़ने में सबसे आगे रहते हैं लेकिन जरा-सी भी लापरवाही कितनी घातक हो सकती है, इस बात का अंदाजा इस घटना से हो सकती है महाराष्ट्र के बुलधाना जिले में 7 साल के बच्चे के मुंह में पटाखा फटने से उसकी मौत हो गई. यह घटना मंगलवार शाम रायपुर पुलिस स्टेशन की सीमा के तहत पिंपलगांव में हुई थी.

पुलिस के मुताबिक, 7 साल का यश संजय गवते दिवाली से पहले अपने दोस्तों के साथ पटाखें जला रहा था. दोस्तों के साथ दिवाली से पहले ही उसके पटाखों का आनंद लेना था. सब बच्चे इसी में व्यस्त थे. यश ने एक ‘सुतली बम’ जलाया लेकिन वह फटा नहीं. उसे लगा कि वह बम जला नहीं.

फिर उसने खेल-खेल में उस पटाखे को उठाया और उसे दांत से दबाया लेकिन अचानक पटाखा मुंह में ही फट गया जिससे उसे गंभीर चोटें आई. उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया लेकिन पहुंचने पर उसे मृत घोषित कर दिया गया.

Leave comment