Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

अजीत जोगी की पार्टी का छत्तीसगढ़ में चुनाव लड़ना ‘अच्छी’ बात, लेकिन कांग्रेस को होगा नुकसान

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के तौर पर अपनी चौथी पारी खेलने का मौका पाने की कोशिश कर रहे रमन सिंह ने सोमवार को कहा कि यह अच्छा है कि मुकाबला को त्रिकोणीय बनाने के लिए राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी भी चुनावी मैदान में उतरे हैं. साथ ही, उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि कांग्रेस के साथ-साथ यह तीसरी शक्ति उनकी पार्टी को भी नुकसान पहुंचा सकता है. बहरहाल, सिंह का कहना है कि जोगी की ‘जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़’ (जेसीसी) का असर भाजपा से अधिक कांग्रेस की चुनावी संभावनाओं पर पड़ेगा.

रमन सिंह ने कहा कि पूर्व कांग्रेस नेता को राज्य भर में लोग पहचानते हैं. उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘यह अच्छी बात है कि उनकी (जोगी की) पार्टी चुनाव लड़ रही है. मुकाबला अब द्विपक्षीय नहीं होगा. वह भाजपा और कांग्रेस दोनों को प्रभावित करेंगे लेकिन कांग्रेस पर इसका प्रभाव अधिक होगा.” मध्य प्रदेश से अलग होने के बाद अजीत जोगी छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री बने थे. कांग्रेस की ओर से उन्होंने वर्ष 2000 से 2003 तक राज्य का नेतृत्व किया. उसके बाद करीब 15 वर्ष से सिंह राज्य के मुख्यमंत्री हैं.

पिछले तीन चुनावों में कांग्रेस ही उनकी मुख्य प्रतिद्वंद्वी पार्टी रही है. आगामी राज्य चुनाव में जोगी की पार्टी मायावती की बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के साथ उतरेगी. राज्य के दो चरणीय चुनावों में 12 नवम्बर को 18 सीटों पर और 20 नवम्बर को 72 सीटों पर मतदान होगा. मतगणना 11 दिसंबर को होगी.