जम्मू-कश्मीर में आतंकी पंचायत चुनावों को प्रभावित करने और लोगों में दहशत फैलाने के मकसद से लगातार साजिश रचने में जुटे हैं। इन नापाक मंसूबों पर भारतीय सेना हर बार भारी पड़ रही है। अखनूर सेक्टर में भारतीय सेना के जवानों ने एक आतंकी को मुठभेड़ के दौरान ढेर कर दिया और कुपवाड़ा में दो आतंकी जो पाकिस्तान से भारतीय सीमा में दाखिल होने की कोशिश कर रहे थे, उन्हें भी मार गिराया। जम्मू-कश्मीर के अखनूर सेक्टर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में पाकिस्तान का आतंकी मंगलवार दोपहर तकरीबन 1 बजकर 50 मिनट पर मार गिराया गया। सुरक्षाबलों को आतंकी के पास से काफी मात्रा में गोला बारूद मिला है। इस कार्रवाई के दौरान पूरे क्षेत्र को सुरक्षाबलों ने घेर लिया और आम नागरिकों के वहां जाने पर रोक लगा दी। डिफेंस पीआरओ के मुताबिक, सुरक्षा के मद्देनजर अभी भी तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

इंडियन आर्मी का आतंक पर ‘डबल ऐक्शन’
जहां अखनूर में मुठभेड़ के दौरान एक आतंकी को सेना ने ढेर कर दिया वहीं, कुपवाड़ा जिले के केरन में दो आतंकी भारतीय सीमा में दाखिल होने की कोशिश कर रहे थे उन्हें भी भारतीय सेना ने मार गिराया। आतंकियों पर कार्रवाई के बाद सर्च ऑपरेशन तेज कर दिया गया है। आतंकियों के पास से मिला हथियारों का जखीरा
अखनूर में मारे गए आतंकी के पास से पांच पिस्टल, दस पिस्टल मैग्जीन्स, पिस्टल की 60 बुलेट्स, एक एके असॉल्ट राइफल, दो एके राइफल मैग्जीन, 15 हैंडग्रेनेड्स और आईई़डी 12 फ्यूज भी मिले हैं। मुठभेड़ में मार गिराए जाने के बाद आतंकियों के मंसूबों पर पानी फिर गया है। दरअसल, राज्य के पंचायत चुनाव को बाधित करने और क्षेत्र में दहशत फैलाने के मकसद से आतंकियों द्वारा लगातार कोशिशें की जा रही हैं। हालांकि, भारतीय सेना की ओर से चलाए जा रहे आतंक विरोधी अभियान ने आतंकियों के मास्टर प्लान की कमर तोड़कर रख दी है।

सीमा पार से पाकिस्तान कर रहा है सीजफायर उल्लंघन
बता दें कि पुंछ जिले के अंतर्गत आने वाले मनकोट और मेंढर सेक्टर के कुछ इलाकों में पाकिस्तान की ओर से सोमवार शाम से ही भारी गोलाबारी की थी। इस दौरान जवाबी कार्रवाई के दौरान मेंढर में एक सैन्यकर्मी शहीद हुआ, जबकि एक अन्य घायल बताया गया।

Leave comment