Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

छग के सियासी रण में यूपी के सीएम योगी सहित सपा, बसपा के प्रमुख अखिलेश, माया का जमावड़ा

छग विधानसभा चुनाव प्रचार में जुटी सभी पार्टियों के शीर्ष नेता ऐड़ी-चोटी का जोर लगा रहे हैं। यहां के चुनावी रण में गुरुवार को यूपी के सियासी दिग्गजों का जमावड़ा लगेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ-साथ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मायावती भी आज ताबड़तोड़ रैलियां कर पार्टी के पक्ष में वोट मांगेंगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार से ही छत्तीसगढ़ में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे हैं। अखिलेश यादव आज से दो दिन के छत्तीसगढ़ दौरे पर पहुंच रहे हैं। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव 15 नवंबर को छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले पहुंचेंगे। अखिलेश यादव कोरबा जिले के “पाली तानाखार” विधानसभा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे। अखिलेश यादव 17 नवंबर को छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे। वे यहां दुर्ग जिले के “बैकुंठ धाम वैशाली नगर” विधानसभा में जनसभा करेंगे। दोपहर 2 बजे महासमुंद जिले के “सिकेरा जोंक बसना” में उनकी जनसभा है।
इसके अलावा बसपा सुप्रीमो मायावती की भी कई ताबड़तोड़ रैलियां हैं। छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में यूपी के ये सियासी दिग्गज आज एक दूसरे पर जमकर जुबानी बाण छोड़ेंगे और पार्टी के लिए वोट मांगेंगे। इससे पहले बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए राम मंदिर के मुद्दे को उठाया। उन्होंने कहा कि जो राम का नहीं वह किसी काम का नहीं। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आखरी चरण का चुनाव मंगलवार को होना है। यह दिन भगवन हनुमान का है। भगवन हनुमान राम के सबसे बड़े भक्त थे। इसलिए सभी को एकजुट होकर कांग्रेस के खिलाफ वोट करना है। क्योंकि कांग्रेस राम मंदिर निर्माण में सबसे बड़ी बाधा है। मुख्यमंत्री ने कहा,” 20 नवंबर को मंगलवार है। मंगलवार है बजरंगबली का वार। याद रखना बजरंगबली राम के भक्त हैं और हम सब का एक भाव होना चाहिए। जो राम का नहीं वो हमारे किसी काम का नहीं। जिन्होंने राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण में बाधा खड़ी करी है, उस कांग्रेस को हम अपना कोई वोट देकर इसे खराब नहीं करेंगे।”