Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

दसवीं एवं बारहवीं के खिलाड़ियों को विशेष अंक दिए जाने की मांग, व्यायाम शिक्षक हुए लामबंद

वैश्विक महामारी कोरोना के कारण इस वर्ष न तो शालेय खेल कैलेंडर में खेलों का आयोजन किया गया और न ही ओपन स्तर पर राज्य एवं राष्ट्रीय स्पर्धाओं का आयोजन किया जा सका। खेल प्रतियोगिताएं नहीं होने से खिलाड़ियों की परेशानी बढ़ गई है। वहीं व्यायाम शिक्षक खिलाड़ी विद्यार्थियों के भविष्य को लेकर चिंतित हैं कि उन्हें विशेष अंक कैसे मिलेंगे। खिलाड़ियों को प्रदेश का गौरव बताते हुए व्यायाम शिक्षक खिलाड़ी विद्यार्थियों को विशेष अंक दिलाने लामबंद हो गए हैं।

बता दें कि राज्य के खिलाड़ी छात्र-छात्राओं को हर वर्ष बोर्ड एवं स्थानीय स्तर की वार्षिक परीक्षा में विभिन्न विषयों में विशेष अंक दिए जाते रहे हैं, लेकिन इस वर्ष कोरोना की वजह से स्पर्धाएं आयोजित नहीं किये जाने के कारण इनमें काफी निराशा है। आगामी दिनों में बोर्ड की परीक्षाएं होंगी और विद्यार्थी खिलाड़ियों को विशेष अंक का लाभ नहीं मिला तो खिलाड़ियों को दोहरी मार झेलनी पड़ेगी।