भारतीय सुरक्षा बलों ने अनंतनाग जिले के सेतकीपोरा के बिजबिहाड़ा में जारी मुठभेड़ में 6 आतंकियों को मार गिराया है. क्षेत्र में कुछ आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद सुरक्षा बलों ने इलाके के कब्जे में लेकर एनकाउंटर शुरू कर दिया. दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों को कई आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली जिसके बाद सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, लंबे चले एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने 6 आतंकियों को मार गिराया है. जिन 6 आतंकियों को ढेर किया गया है, उसमें पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या में शामिल आतंकी आजाद मलिक का नाम भी है. आजाद मलिक के अलावा उनैस शाखी, शाहिद बशीर, बसित इश्तियाक, आकिब नज़र, फिरदौर नजर को सेना ने ढेर कर दिया है. आतंकियों ने इस साल जून में शुजात बुखारी की हत्या की थी.

शव को बरामद कर लिया गया है. हालांकि सुरक्षा बलों की ओर से फायरिंग रोक दी गई है और सर्च ऑपरेशन अभी जारी है. घटनास्थल से हथियार और गोला-बारूद बरामद किए गए हैं. सूत्रों का कहना है कि मारे गए आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हो सकते हैं, लश्कर पिछले कुछ दिनों से क्षेत्र में सक्रिय था. शवों की पहचान की जानी है.

कल गुरुवार को कुलगाम में सेना के आरआर कैंप पर आतंकियों ने हमला किया. इससे पहले शोपियां में मंगलवार को एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने 4 आतंकियों को मार गिराया. मारे गए सभी आतंकी स्थानीय हैं. हालांकि इस मुठभेड़ में एक जवान भी शहीद हो गया, जबकि 3 अन्य जवान घायल हो गए.

शुजात बुखारी की हत्या से आजाद मलिक का कनेक्शन

बता दें कि कश्मीर के मशहूर पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या की साजिश आतंकवाद के पनाहगाह पाकिस्तान में रची गई थी. इस हत्या को लश्कर-ए-तैय्यबा के खूंखार आतंकियों ने अंजाम दिया था. शुजात बुखारी की हत्या के आरोपियों की पहचान सज्जाद गुल, आजाद अहमद मलिक, मुजाफर अहमद भट और नवीद जट के रूप में हुई थी. सज्जाद गुल अब पाकिस्तान में रहता है, जबकि आजाद अहमद मलिक अनंतनाग जिले का रहने वाला था और लश्कर का आतंकी था

Leave comment