कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान में आज अपनी चुनावी सभा से अजमेर में सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में हाजरी लगाई तथा पुष्कर स्थित ब्रह्मा मंदिर में दर्शन किये. राहुल  ने पहले दरगाह पहुंचकर ख्वाजा साहब की मजार पर लाल रंग की सुनहरे काम वाली मखमली चादर चढ़ाई तथा अकीदत के फूल पेश कर देश में अमन चैन, खुशहाली एवं भाईचारे की दुआ की. गांधी परिवार के खादिम सैय्यद अब्दुल गनी गुर्देजी ने राहुल गांधी को जियारत कराई.

इससे पहले दरगाह के निजाम गेट पर खादिम परिवार के गुर्देजी के अलावा सैय्यद जोयब  व सैय्यद यासिर गुर्देजी ने राहुल गांधी की आगवानी की. फिर उन्हें बुलंद दरवाजे से महफिल खाने सबीलीगेट, शाहजंंहानी मस्जिद, पायंती दरवाजे होते हुए मजार शरफ लाया गया. इस अवसर पर पार्टी के राजस्थान प्रभारी अविनाश राय पाण्डे, राष्ट्रीय महासिचव अशोक गहलोत , प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट , राजस्थान सहप्रभारी काजी निजामुद्दीन , कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला, सांसद डॉ रघु शर्मा, शहर अध्यक्ष विजय जैन मौजूद थे.

जियारत के बाद लौटते समय खादिमों की दोनों संस्था अन्जुमन यादगार एवं अन्जुमन सैय्यद जादगान के सदर महासिचवों की ओर से उनका स्वागत किया गया. दरगाह कमेटी ने भी स्मृति चिह्न भेंट किया. इसके बाद गांधाी तीर्थराज पुष्कर पहुंचे जहां उन्होंने ब्रह्म घाट पहुंचे जहां उन्होंने पवित्र पुष्कर सरोवर पूजा अर्चना की. पुश्तैनी पुरोहित नंदलाल कौल के पुत्र पं राजनाथ कौल ने उन्हें पूजा कराई. इसके बाद वह ब्रह्मा मंदिर के दर्शन किए. इस अवसर पर उनको यादगार तस्वीराें का एलबम भी भेंट किया गया. इसके बाद गांधी का जैसलमेर जिले के पोकरण में जनसभा को संबोधित करने का कार्यक्रम हैं.

Leave comment