Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

एसईसीएल में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर नौकरी कर रहा शख्स गिरफ्तार, 29 साल बाद सच आया सामने

कोरिया- फर्जी दस्तावेजों के आधार पर मृतक का पुत्र बनकर अनुकम्पा नियुक्ति पाकर पिछले 29 सालो से एसईसीएल में नौकरी कर रहे 57 वर्षीय रामधनी राम को पोंडी पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायालय में प्रस्तुत किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया । पोंडी पुलिस के उपनिरीक्षक के. के. राजवाड़े ने बताया कि पोंडी पुलिस के पास डॉ. एम. एन. आजम ने लिखित में शिकायत दर्ज कराई थी कि चरचा कालरी में कार्यरत रामधनी राम ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर एसईसीएल में नौकरी प्राप्त किया है । उपरोक्त शिकायत की जाँच करने पर पोंडी पुलिस को पता चला कि 57 वर्षीय रामधनी राम पिता तुगनराम जाति अहीर (बरगाह ) मूल रूप से ग्राम अजब नगर, थाना जयनगर जिला सूरजपुर का निवासी है, जो वर्ष 1989 में सूरजपुर जिले के थाना जयनगर के ग्राम गंगापुर के रहने वाले बितनाराम पिता गौटुराम की मृत्यु होने के बाद खुद को उसका पुत्र बताते हुए अनुकम्पा नियुक्ति के लिए अपना दावा पेश किया और उस समय पदस्थ एसईसीएल के अधिकारियो की मिलीभगत से खुद के वितनाराम का पुत्र होने सम्बंधित फर्जी दस्तावेज तैयार कर एसईसीएल में प्रस्तुत किया और एसईसीएल में अनुकम्पा नियुक्ति पर नौकरी प्राप्त कर लिया । पहले उसे चिरमिरी में पोस्टिंग मिली । बाद में स्थानांतरण होने पर वह चरचा कालरी चला गया ।