पाकिस्तान में करतारपुर उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर सियासत जारी है. पंजाब के कैबिनेट मंत्री लगातार विपक्ष के निशाने पर है. इस मुद्दे को लेकर राजनीति चरम पर है. इस मसले पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, ‘जब मैंने पहली बार पाकिस्तान जाकर करतारपुर कॉरिडोर के बारे में बात की तो मेरा मज़ाक बनाया गया. अब वही लोग यू टर्न ले रहे है.’ शिलान्यास का न्योता पंजाब के सीएम मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह को भी पहुंचा लेकिन उन्होंने स्वीकार नहीं किया था.

पंजाब सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के सवाल पर सिद्धू ने कहा, ’20 कोंग्रेसी नेताओं ने मुझे जाने के लिए कहा था, केंद्रीय नेतृत्व ने मुझे जाने के लिए कहा. पंजाब के मुख्यमंत्री मेरे पिता की तरह हैं, मैंने उनसे कहा था कि मैंने पहले ही पाकिस्तान से आने का वादा किया था.

नवजोत सिंह सिद्धू ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. हैदराबाद में सिद्धू ने कहा, ‘हम राहुल गांधी के सिपाही हैं, मेरा नारा है कि बुरे दिन जाने वाले है और राहुल गांधी आने वाले हैं. लाल किला पर झंडा फैराने वाले हैं. कोई रोक सके तो रोक.

बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू पर बीजेपी हमलावर तेवर अख्तियार किये हुए है. बीजेपी विधायक ने सिद्धू को पाकिस्तान दौरे के दौरान खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला के साथ तस्वीर में देखे जाने पर सवाल उठाये है. बीजेपी विधायक ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और राहुल गांधी से सवाल किया कि क्या वे सिद्धू को बर्खास्त करेंगे.

पिछले हफ्ते पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने नवजोत सिंह सिद्धू ,सुषमा स्वराज, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और राज्य मंत्री और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू को निमंत्रण दिया था. सोमवार को उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू गुरदासपुर जिले के मान गांव में नए घोषित डेरा बाबा नानक-करतारपुर साहिब रोड गलियारे की आधारशिला रखी थी.

Leave comment