11 January 2019

कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान में बुधवार को एक रैली में राफेल मामले का हवाला देते हुए कहा था, ”56 इंच का सीना रखने वाला चौकीदार भाग गया और एक महिला सीतारमण जी से कहा कि मेरा बचाव कीजिए। मैं अपना बचाव नहीं कर सकता, मेरा बचाव कीजिए।ÓÓ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधी के इस बयान को सभी महिलाओं का अपमान करार दिया है।

राहुल गांधी का पीएम मोदी पर पलटवार: बातें घुमाना बंद करिए, मर्द बनिए और मेरे सवाल का जवाब दीजिए।

राष्ट्रीय महिला आयोग ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के संदर्भ में कथित तौर परअपमानजनकÓ टिप्पणी करने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है।

हृष्टङ्ख की अध्यक्ष ने कहा कि बड़ीविडंबनाÓ है कि देश का राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष इस तरह का बयान दे रहे हैं. क्या वह (राहुल गांधी) सबसे बड़े लोकतंत्र की रक्षा मंत्री को एक कमजोर महिला मानते हैं. क्या उन्हें लगता है महिलाएं कमजोर होती हैÓÓ

इसके प्रत्युत्तर में कांग्रेस की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने क्या जवाब दिया इसकी चर्चा इस पृष्ठ में अलग से की गई है।

इसी प्रकार से कथित रामभक्त कांगे्रस अध्यक्ष   के विशेष विश्वासपात्र मणिशंकर अय्यर ने राम जन्म स्थान के बारे में टिप्पणी करते हुए पूछा था  कि दशरथ के १००० कमरों में से किस कोने में  राम पैदा हुए थे?

इस प्रकार की अनेक टिप्पणियां सुनने के उपरांत हमें एक वाकया का स्मरण हो रहा है।

मध्यप्रदेश के एक पूर्व डीआईजी जिन्होंने भींड मुरैना के डकैतों को आत्मसमर्पण करवाया था। उन्हीं की पत्नी ने आत्मसमर्पण करने वाले मुरैना के प्रसिद्ध डकैत को अपना भाई बनाया था।

टीवी चैनल में जब उस डकैत भाई से पुलिस ऑफिसर की पत्नी ने वार्तालाप के दौरान डकैत भाई को कहा कि उनका पति मर्द होते हुए भी रात के अंधेरे में छिप कर घर से क्योंं भागा?

बेचारा डकैत जो अब भलामानुष बन चुका था वह अपनी मुह बोली बहन को क्या उत्तर देता?

लगता है कि कांगे्रस अध्यक्ष और उनके मीडिया प्रभारी उक्त डाकू की मुहबोली बहन से भी बद्तर………

इस प्रकार के नेताओं सबक सीखाने का समय जनता के पास २०१९ का लोकसभा चुनाव हो सकता है।

Leave comment