Lok Shakti

Nationalism Always Empower People

दुर्ग विधायक ने अमृत मिशन के कार्य सुधार के लिए 15 दिन का दिया अल्टीमेंटम

Default Featured Image

दुर्ग । शहर में 15 महीने से शुरुवात किए गए अमृत मिशन पाईप लाईन जिसमें अग्रिम भुगतान 32 करोड़ को लेकर भी लक्ष्मी इंजीनियरिंग के कार्यशैली से जनता व जनप्रतिनिधि आक्रोशित है। प्रोजेक्ट डेवलमेंट मैनजमेंट कन्सलटेसी एजेंसी दिल्ली के पीडीएमसी दफ्तर पहुंचकर विधायक अरुण वोरा के साथ जनप्रतिनिधियों ने नाराजगी जताई। कांग्रेसी पार्षदों ने कार्य का विडियों बनाकर पीडीएमसी के प्रमुख अजय पारवेकर को दिखाकर कहा कि 6 जगह ज्वाइंट से नए लग रहे वॉटर मीटर में लिकेज व 10 माह पूर्व खोदे गए नालियों एवं सडक़ो के गड्ढो से जनता कैसे दुर्घटनाओं की शिकार हो रही है। किन्तु निर्माण एजेंसी द्वारा कार्य के प्रति हर्ठधर्मिता दिखाते हुए सुधारने की बात करते रहे। किन्तु कार्य निगम अधिकारियों के निर्देश की भी अव्हेलना कर रही है ना तो कार्य में तेजी से सुधार हो रहा है और ना ही गुणवत्तायुक्त कार्य हो रहा है। इसी संदर्भ में विधायक ने कंपनी को जमकर खरी-खोटी सुनाई तथा 15 दिन का अल्टीमेंटम देते हुए कहा कि कार्य सुधार नहीं हुआ तो सरकार के पास निर्माण एजेंसी की शिकायत की जाएगी।
पार्षद कन्या ढीमर ने कहा कि वार्ड की छोटी-छोटी गलियों को पाईप लाईन के कार्य से तहस-नहस कर दिया है घरो के दरवाजों के सामने की स्थिति के कारण बंधक जीवन जी रहे है। अधूरे कार्य से दिव्यांगो, बुजुर्गो व आने-जाने लोगों को काफी तकलीफो का सामना करना पड़ रहा है काफी भी बड़ी दुर्घटना घट सकती है। मिशन कार्यालय पहुंचे पार्षद राजेश शर्मा, शकुन ढीमर, कन्या ढीमर, प्रकाश गीते, सुरेन्द्र सिंह राजपूत, शंकर सिंह ठाकुर उपस्थित थे।