Lok Shakti

Nationalism Always Empower People

CM भूपेश व रमन सिंह में tweet war, सियार, सिंह, फिल्म, ट्रैलर सब कुछ बोला

Default Featured Image

लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस और भाजपा के आला-नेताओं के बीच सोशल मीडिया में जंग तेज होती जा रही है। पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने कांग्रेस के 68 विधायकों की जीत पर तंज कसते हुए ट्वीट किया है कि संख्या में अधिक हो जाने से क्या सियारों ने ‘सिंह” पर विजय पाई है? उनके इस ट्वीट पर कांग्रेस नाराज है। उसका कहना है कि घोटाले और भ्रष्टाचार की परतें उधेड़ने से रमन बौखला गए हैं। इस कारण जनता के निर्वाचित प्रतिनिधियों को सियार कहने से भी परहेज नहीं कर रहे।

वहीं, मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने ट्वीट किया है कि अभी तो सिर्फ ट्रेलर है, सोचिए पूरी पिक्चर कैसी होगी। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. सिंह का ट्वीट वीडियो के साथ पोस्ट हुआ है। उसमें नान मामले की जांच की तरफ इशारा करते हुए लिखा है कि बदले की इस आंच से भला सत्य को आंच कहां आई है?

संख्या में अधिक हो जाने से भला, क्या सियारों ने ‘सिंह” पर विजय पाई है? गरीबों को चावल देना तुम्हारे नजर में अपराध है। मेरे आदिवासी भाइयों का क्या सरई का बीज खाना याद है? डॉ. रमन ने संकेत दिया है कि वे जांच से डर नहीं रहे। उन्होंने लिखा है, भूखों को खाना देना, अगर मेरे अपराध में गिना जाएगा, तो लाख डिगा ले कदम मेरे, ये अपराध फिर से किया जाएगा।

डॉ. सिंह कहते रहे हैं कि कांग्रेस बदलाव की नहीं, बदले की सरकार चला रही है। इस पर भी उन्होंने लिखा है कि अपने द्वेष के तराजू में मेरे कर्मों को क्या तौलोगे, वर्षों सेवा किया है हमने, क्या उस पर भी कुछ बोलोगे?

डॉ. सिंह ने कांग्रेस के घोषणापत्र पर भी सवाल उठाते हुए लिखा है कि झूठे वादों से तुम पहुंचे हो, अब उन्हें पूरा करने की बारी है। कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने डॉ. सिंह के ट्वीट पर ‘सियार” शब्द को लेकर आपत्ति की है। उनका कहना है कि रमन पहले भ्रष्टाचार के आरोपी थे और अब वाणी संयम खोने के गुनाहगार बन गए हैं। भाजपा ने सत्ता में रहकर गरीबों के निवाले के नाम पर नान घोटाला किया। अपने चहेते रिश्तेदारों तक पैसा पहुंचाया।

नान घोटाले की परतें उधड़ रही हैं, तब सबको समझ में आ रहा है कि भाजपा सरकार तो गरीबों तक अनाज पहुंचाने में नहीं, मोटा कमीशन कमाने में लगी थी। इसी कारण रमन का जो असली चेहरा सामने आया है, उससे प्रदेश की जनता के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं में भी गुस्सा और नाराजगी है। इधर डॉ. सिंह की उस लाइन ‘झूठे वादों से तुम पहुंचे हो, अब उन्हें पूरा करने की बारी है” का जवाब देने के लिए मुख्यमंत्री बघेल ने सोमवार को हुई कांग्रेस की किसान आभार रैली जोड़ते हुए ट्वीट किया है। बघेल ने लिखा है, जब किसान खुश होता है, तो पूरा देश खुश होता है। किसानों की गर्मजोशी देख, हमें एक नई ऊर्जा मिली है। लाखों किसानों के चेहरों की मुस्कान बता रही है कि हम सही दिशा में हैं। आगे उन्होंने लिखा है, अभी तो सिर्फ ट्रेलर है।