5 February 2019

क्रिस्चियन मिशेल, तलवार, राजीव सक्सेना आदि के बाद अब माल्या पर भारत को बड़ी कामयाबी, यूके सरकार ने प्रत्यर्पण को दी मंजूरी

महागठबंधन को मीडिया में कभीकभी महाठगबंधन की संज्ञा भी दी जा रही है।

धरने पर बैठी ममता के सपोर्ट में आए राहुल गांधी, अखिलेश, केजरीवाल आदि की  सांसे थम गई हैं।

यूनाइटेड किंगडम होम ऑफिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार विजय माल्या के प्रत्यर्पण आदेश पर गृह सचिव ने औपचारिक रूप से हस्ताक्षर कर दिए हैं। यूके सरकार ने माल्या के प्रत्यर्पण को मंजूरी दे दी है। हालांकि माल्या यूके सरकार की मंजूरी के बाद 14 दिन के अंदर अपील कर सकते हैं। ब्रिटेन सरकार इस तरह के मामलों में अपील करने के लिए 14 दिन का समय देती है।

अब ऐसा लगता है कि एक के बाद एक सभी भगोड़ों का एक के बाद एक प्रत्यार्पण होगा और सीबीआई, ईडी आदि उन्हें गिरफ्त में लेकर सारी भ्रष्टाचारी नेताओं का भांडाफोड़ करवाएगी।

यही कारण है कि राहुल गांधी जैसे नेता जो जमानत पर हैं और अखिलेश जैसे अन्य नेताओं पर सीबीआई, ईडी आदि का जो शिकंजा कसा जा रहा है उससे स्पष्ट है कि वे यथाशीघ्र जेल मेेंं आराम फरमा रहे लालू यादव के साथी बन जाएंगे।

यही कारण है कि सारे भ्रष्टाचारी नेता जो परिवारवादी पार्टियों की आड़् में छिप कर देश के विरूद्ध साजिश रचते रहे हैं वे  घबराकर मोदी हटाओमोदी हटाओ की रट लगाये हुए हैं।

परंतु अब इन सबका बचना मुश्किल है। ऐसा प्रतीत हो रहा है।

Leave comment