Lok Shakti

Nationalism Always Empower People

आतंकी हमले के बाद राहुल बोले हमारी आत्मा में हुआ हमला, परिवार और सरकार के साथ हम भी हैं खड़े, इधर कश्मीर प्रशासन में हो सकता है बड़ा फेरबदल

Default Featured Image

पुलवामा हमले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बड़ा बयान दिया है. राहुल गांधी ने कहा- आतंकवाद का उद्देश्य देश को बांटना है, इस देश को कोई भी शक्ति बांट या तोड़ नहीं सकती है. इस मुद्दे पर पूरा विपक्ष सुरक्षाबलों और सरकार के साथ खड़ा है. यह देश की आत्मा पर हमला है, हमलावरों को यह नहीं लगना चाहिए वो इस पर जरा सी भी चोट पहुंचा सकते हैं. उन्हें यह याद रखना चाहिए यह देश किसी भी चीज को भूलता नहीं है. हमारे दिल में चोट पहुंची है, मैं सुरक्षा बलों के परिवारों से कहना चाहता हूं कि हम उनके साथ खड़े हैं और हमारी पूरी शक्ति उनके साथ है…

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पुलवामा हमले को लेकर कहा- आज बहुत दुख का दिन है, हमारे देश ने करीब 40 सशस्त्र बलों के जवानों को खो दिया है और हमारा सबसे बड़ा कर्तव्य है कि हम उनके परिवारों को बताएं कि हम उनके साथ हैं. हम कभी भी आतंकवादी ताकतों से समझौता नहीं करेंगे.

NIA, NSG और CFSL की स्पेशल टीम आज हमले वाली जगह पर पहुंच रही है. पुलवामा हमले के बाद स्थिति को मद्देनजर रखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने अपने सभी राजनीतिक कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं. प्रधानमंत्री की आज इटारसी और कल धार में होने वाली रैलियों को कैंसिंल कर दिया गया है. प्रधानमंत्री आज वंदेभारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे, दरअसल सरकार संदेश देना चाहती है कि आतंकियों की कायराना हरकत के आगे झुकेगी नहीं.

पुलवामा हमले के बाद सरकार जम्मू कश्मीर में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल सकती है. सूत्रों के हवाले से जानकारी है कि जम्मू कश्मीर के राज्यपाल को बदला जा सकता है. सीसीएस की बैठक में आज इस विचार पर भी विचार किया गया कि क्या एक बार फिर जम्मू कश्मीर में किसी पूर्व सैन्य अधिकारी को राज्यपाल बनाया जा सकता है? हालांकि अभी इसपर कोई आधिकारिक फैसला नहीं हुआ है. बता दें कि इस वक्त सत्यपाल मलिक हैं, पहली बार किसी राजनेता को गर्वनर बनाया गया था.