Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

राजस्थान में अमित शाह बोले- घुसपैठियों को मौसेरे भाई की तरह बचाती है कांग्रेस

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को राजस्थान के नागौर में चुनावी रैली को संबोधित किया. राजस्थान में 7 दिसंबर को मतदान होना है, उससे पहले चुनाव प्रचार जोरों पर चल रहा है. रैली में अमित शाह ने असम में NRC का मुद्दा उठाया, उन्होंने इस मुद्दे पर कांग्रेस को जमकर घेरा.

उन्होंने कहा कि हमने असम में 40 लाख घुसपैठियों को चुना, संसद में राहुल गांधी कह रहे हैं कि उन्हें देश से क्यों निकाल रहे हो. घुसपैठ करने वाले यहां पर बम धमाके करते हैं, हमारे लोग मारे जाते हैं. कांग्रेस वाले घुसपैठियों को ऐसे बचा रहे हैं जैसे इनके मौसेरे भाई लगते हो. 2019 में मोदी सरकार बनने के बाद एक-एक घुसपैठियों को बाहर कर देंगे.

राहुल पर निशाना

इस रैली में शाह ने कहा कि राहुल बाबा दिन में सपने मत देखा करो, जब से नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने हैं इस देश का चुनावी इतिहास उठा कर देख लो. आपको पता लग जाएगा कि राजस्थान का क्या होगा. अमित शाह ने कहा कि मुझे मालूम है राजस्थान में जो भाजपा की सरकार बनने वाली है इसकी नींव मारवाड़ का ये नागौर रखने वाला है.

बीजेपी अध्यक्ष बोले कि सचिन पायलट मुझसे सवाल कर रहे हैं, मुझे उन्हें जवाब देने की जरूरत नहीं है. हम जनता को जवाब दे रहे हैं. मोदी सरकार ने राजस्थान के लिए केंद्र से पूरी मदद भेजी है. यहां सड़कों का निर्माण किया जा रहा है, आज गांव-गांव में बिजली-शौचालय पहुंचा है.

नागौर में अमित शाह ने कहा कि आपको कांग्रेस और भाजपा के बीच में निर्णय करना है एक ओर मोदी और वसुंधरा के नेतृत्व में देश भक्तों की टोली जैसी भाजपा खड़ी है और दूसरी ओर ना नेता है, ना नीति है और ना सिद्धांत है ऐसी राहुल बाबा की टीम खड़ी है फैसला आपको करना है.

उन्होंने कहा कि 2014 में राजस्थान ने भोले जी की तरह सारी सीटें मोदी जी की झोली में डाल दी. उन्होंने कहा कि सोनिया-मनमोहन की सरकार में पाकिस्तान से आतंकी घुसते थे, क्योंकि कांग्रेस को उनमें अपनी वोटबैंक दिखती थी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को ना देश की चिंता ना राजस्थान की चिंता है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस में लोकतंत्र नहीं है, ये पार्टी गांधी-नेहरू प्राइवेट फर्म बन चुकी है.

उन्होंने कहा कि राजस्थान के अन्दर भाजपा सरकार अंगद का पांव है उसको कोई हिला नहीं सकता, राजस्थान में प्रचंड बहुमत के साथ फिर से भाजपा की सरकार आने वाली है.